Wednesday, Aug 10, 2022
-->
from-eid-to-parashuram-jayanti-festivals-celebrated-peacefully-in-ghaziabad-police-were-ready

ईद से लेकर परशुराम जंयती तक गाजियाबाद में शांतिपूर्ण तरीके से मने त्यौहार, पुलिस रही मुस्तैद

  • Updated on 5/3/2022

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। मंगलवार को ईद उल फितर, अक्षय तृतीया और परशुराम जंयती के पर्व शांतिपूर्ण तरीके से मनाए गए। जिले में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस प्रशासन द्वारा पहले ही कमर कस ली गई थी। इसलिए पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी सुबह से ही मुस्तैद रहे। ईद की नमाज के साथ-साथ अक्षय तृतीया व परशुराम जंयती के मौके पर शहर में कई जगहों पर भंडारे व शरबत वितरण किया गया। विभिन्न सामाजिक संगठनों द्वारा भी इस मौके पर कार्यक्रम आयोजित किए गए। 

दुआओं में उठे हाथ, शांतिपूर्ण तरीके से मनी ईद
जनपद में ईद उल फितर के मौके पर सुबह 6 बजे से 9 बजे तक ईदगाहों व मस्जिदों में शासनादेश के मुताबिक नमाज अदा की गई। प्रशासन द्वारा पूरे जिले में कानून व्यवस्था व कोविड प्रोटोकॉल के पालन को सुनिश्चित करने के लिए 7 मजिस्ट्रेटों की तैनाती की गई। शहर के कैला भट्टा, शहीदनगर, पसौंडा, खोड़ा, लोनी, डासना-मसूरी आदि मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में सुबह से खासी चहल-पहल देखने को मिली। निर्धारित समय पर रोजेदार नमाज अता करने के लिए मस्जिदों में उमड़ पड़े। कैला भट्टा क्षेत्र में सिटी मजिस्ट्रेट गंभीर सिंह, एसपी सिटी प्रथम निपुण अग्रवाल, एसपी ट्रेफिक, सीओ अवनीश, समाज सेवी हाजी चमन, सिविल डिफेंस के चीफ वार्डन ललित जायसवाल ने नमाज के समय व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इसके अलावा सेक्टर-23 संजय नगर में भी एसपी सिटी ने मोर्चा संभाला। मुरादनगर में सीओ सदर, मुरादनगर थाना प्रभारी निरीक्षक  व पुलिस फोर्स तैनात रहा, वहीं मोदीनगर के तहसीलदार भी मौजूद रहे।

अक्षय तृतीया से लेकर ईद तक के कार्यक्रमों में शामिल हुए वीके सिंह
क्षेत्रीय सांसद वीके सिंह मंगलवार को शहर में आयोजित विभिन्न धार्मिक आयोजनों में शामिल हुए। सबसे पहले वह प्रसिद्ध दुधेश्वरनाथ मंदिर पहुंचे। जहां उन्होंने शिवलिंग पर जल चढाया और भगवान शिव की आरधना की। इसके बाद वह शहर काजी मशरूर अब्बासी व मोहम्मद कलियर चिरागुद्दीन के आवास पर पहुंचे और ईद की मुबारकबाद दी। इसके अलावा उन्होंने राजनगर एक्सटेंशन के शालविका फॉर्म के पास स्थित श्री निजान्द  आश्रम में धार्मिक कार्यक्रम में सम्मिलित होने पहुंचे। इस दौरान उनके साथ उनकी बेटी मृणालिनी सिंह, जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह, उपजिलाधिकारी विनय सिंह, भाजपा नेता मंयक गोयल, केडी त्यागी व अन्य मौजूद रहे। 

अक्षय तृतीया व परशुराम जंयती पर कहीं हवन तो कहीं हुआ भंडारा 
परशुराम जंयती के मौके पर शहर में कई सारे आयोजन हुए। जिसमें कहीं हवन तो कहीं शरबत वितरण का आयोजन हुआ। जेकेजी इंटरनेशनल स्कूल इंदिरापुरम में अखिल भारतवर्षीय ब्राह्मण महासभा द्वारा भगवान परशुराम जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि शारदा पीठाधीश्वर जगतगुरु शंकराचार्य राजराजेश्वराश्रम महाराज एवं रंजीत सेवा आश्रम के अध्यक्ष धर्मगुरु रंजीत महाराज ने भगवान परशुराम के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर किया। उधर, विजय नगर के मवई गांव में भगवान परशुराम जन्मोत्सव मनाया गया। इस दौरान परशुराम के चित्र पर पुष्प अर्पित किए गए। 

वाणिज्य कर विभाग में भगवान परशुराम जयंती मनाई गई। विभाग के कर्मचारियों ने भगवान परशुराम जी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर जनकल्याण के लिए प्रार्थना की। वाणिज्य कर अधिकारी सुनील शर्मा ने कहा कि भगवान परशुराम ने अपना पूरा जीवन जनकल्याण के लिए समर्पित कर दिया, जब जब पृथ्वी पर अत्याचार हुआ तब तब भगवान परशुराम जी ने न्याय किया। श्री दूधेश्वरनाथ महादेव मठ मंदिर में विश्व ब्राह्मण संघ के तत्वाधान में विश्व शांति यज्ञ किया गया। राजनगर एक्सटेंशन में राष्ट्रीय ब्रह्मर्षि परिषद के तत्वावधान में भंडारे व रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। ट्रांस हिंडन एरिया के कई स्थानों पर भंडारा और छबील का आयोजन किया गया। वैशाली और इंदिरापुरम में भंडारे में सैंकड़ों लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया। वसुंधरा, सेक्टर 15 स्थित शिखर एनक्लेव सोसाइटी की आरडब्ल्यूए की ओर से छबील का आयोजन किया गया। वहीं, वैशाली में भी भंडारे का आयोजन किया गया। इसके अलावा सूर्यनगर स्थित शिवमंदिर में भी भंडारे का आयोजन किया गया।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.