Saturday, Mar 06, 2021
-->
gajendra singh shekhawat accuses mamata banerjee of cheating people in bengal pragnt

केन्द्रीय मंत्री शेखावत ने ममता बनर्जी पर साधा निशाना, लगाया धोखाधड़ी का आरोप

  • Updated on 1/16/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पश्चिम बंगाल (West Bengal) में विधानसभा चुनाव नजदीक है और इससे पहले सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (TMC) की मश्किलें लगातार बढ़ती जा रही है। इस बीच केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत (Gajendra Singh Shekhawat) ने राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) पर लोगों के साथ विकास के नाम पर 'धोखा' करने का आरोप लगाया है। शेखावत ने कहा कि उनके 'जिद्दीपन' के कारण कई लोग बेघर रहने को मजबूर हैं।

अधीर रंजन ने TMC के गठबंधन फॉर्मूले को किया खारिज, कांग्रेस में विलय की दी सलाह

ममता ने विकास के नाम पर लोगों को ठगा- शेखावत
शेखावत ने उत्तर 24 परगना जिले में भाजपा के लिए घर-घर जाकर चुनाव प्रचार करने के दौरान यह बात कही। केन्द्रीय मंत्री ने कहा, 'ममता बनर्जी के जिद्दीपन के कारण लोग बेघर रहने को मजबूर हैं। शेखावत ने कहा कि सिर्फ यही नहीं बनर्जी ने प्रधानमंत्री आवास योजना के फायदों से गरीबों को वंचित किया है, जिसके कारण लोग कच्चे घरों में रहने को मजबूर हैं।' उन्होंने कहा, 'ममता बनर्जी सरकार ने पिछले दस वर्षों में विकास के नाम पर लोगों को ठगा है।'

TMC में नहीं चल रहा सब कुछ ठीक! सांसद शताब्दी रॉय ने फेसबुक पर जाहिर की पीड़ा

अधीर रंजन ने TMC के गठबंधन फॉर्मूले को किया खारिज
बता दें कि पश्चिम बंगाल में सत्ता की लड़ाई दिलचस्प होती जा रही है। बंगाल में बीजेपी के आक्रामक तेवर को देखते हुए सत्ताधारी टीएमसी ने सभी दलों से एकजुट होने की अपील की थी। जिसे कांग्रेस और वाम दलों दोनों ने ठुकरा दिया है। दरअसल टीएमसी सांसद सौगत राय ने हाल ही में एक बयान दिया था जिसके बाद राज्य में राजनीतिक हलचल तेज हो गई थी। उन्होंने कहा कि अगर बीजेपी को बंगाल में हराना है तो सभी दलों को एकजुट होना चाहिये।

TMC सांसद नुरसत जहां का विवादित बयान, बोलीं- कोरोना से ज्यादा खतरनाक है BJP वायरस

कांग्रेस में विलय की दी सलाह
उन्होंने सुझाव दिया कि ममता बनर्जी के नेतृत्व में कांग्रेस और वामदलों को एक साथ मिलकर चुनाव लड़ना चाहिये। जिस पर कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि बीजेपी को रोकने के लिये टीएमसी को कांग्रेस में मिल जाना चाहिये। उन्होंने कहा कि बंगाल में सरकार बनाना है तो कांग्रेस के नेतृत्व में लड़ना चाहिये। अधीर रंजन यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा कि बंगाल में बीजेपी को मजबूत करने के लिये टीएमसी जिम्मेदार है।

TMC पर फिर संकट, CM ममता के भाई कार्तिक ने वंशवाद पर कही ये बात

बीजेपी- टीएमसी के बीच सत्ता की होड़
उन्होंने कहा कि टीएमसी पिछले 10 सालों से कांग्रेस विधायकों को खरीदने के लिये डोरे डालती रही। लेकिन अब कांग्रेस के साथ आने को इच्छुक है। जिसका हम स्वागत करते है। लेकिन उन्हें अपनी पार्टी का कांग्रेस में विलय करना चाहिये। मालूम हो कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी और टीएमसी में सत्ता की होड़ शुरु हो गई है। दोनों दलों के प्रमुख नेता एक-दूसरे पर दिन-प्रतिदिन प्रहार करने से भी नहीं चूकते है। इसी कड़ी में टीएम के कांग्रेस और वाम दलों को दिया गया प्रस्ताव बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है। लेकिन टीएमसी के इस प्रस्ताव को कांग्रेस और वामदलों ने ठुकरा दिया है। जिससे ममता को झटका लगा है।   

RSS प्रमुख मोहन भागवत ने श्रीराम जन्मभूमि निधि समर्पण महाअभियान किया शुरू

TMC सांसद शताब्दी रॉय ने फेसबुक पर जाहिर की पीड़ा
वहीं बीरभूम से तृणमूल सांसद व अभिनेत्री शताब्दी रॉय (Shatabdi Roy) ने जनता के नाम एक फेसबुक पोस्ट जारी किया है, जिसमें उन्होंने खुलकर अपनी पीड़ा व्यक्त की है। इतना ही नहीं शताब्दी रॉय ने अपने पोस्ट से संकेत भी दिया है कि 'पार्टी में कुछ लोग उन्‍हें नीचा दिखाने में लगे हैं'। पश्चिम बंगाल के बीरभूम से टीएमसी सांसद शताब्दी राय ने गुरुवार को संकेत दिया है कि पार्टी से उन्हें दिक्कत हो रही है और वह शनिवार को (16 जनवरी) कोई 'निर्णय' ले सकती हैं। अभिनेत्री से सियासत में आई राय ने अपनी एक फेसबुक पोस्ट में दावा किया है कि उनके संसदीय क्षेत्र में चल रहे पार्टी के कार्यक्रमों के बारे में उन्हें नहीं बताया जा रहा है, और इससे वह 'मानसिक कष्ट' हुआ है।

ये भी पढ़ें:

comments

.
.
.
.
.