Wednesday, Oct 27, 2021
-->
ganesh chaturthi 2021 devotees of ganesha idol set up in their homes

Ganesh Chaturthi 2021 : घर-घर विराजे गजानंदी, घरों और मंदिरों में गणेश पूजन

  • Updated on 9/10/2021

नई दिल्ली। अनामिका सिंह। घर में पधारो गजानंदी मेरे घर में पधारो। ऐसी ही सुंदर गीतों की ध्वनियां वक्रतुण्ड भगवान गणेश के आगमन पर राजधानी दिल्ली के अधिकतर घरों से आती हुई सुनाई दीं। दरअसल गणेश चतुर्थी पर डीडीएमए व दिल्ली सरकार ने कोविड गाइडलाइंस के अनुसार सार्वजनिक पूजा पंडालों पर रोक लगा दी है ताकि कोरोना के प्रसार को रोका जा सके। लेकिन गजानन के भक्त कहां मानने वाले हैं, उन्होंने अपने घरों में छोटी-छोटी गणपति जी की मूर्तियों को खरीदकर विधिपूर्वक स्थापना की।
एशिया की सबसे बड़ी कुम्हार कॉलोनी पहुंची केंद्र राज्यमंत्री

फूलों व अशोक के पत्तों से हुई सजावट
गणपति भक्तों ने जहां ढोल-नगाडों के साथ गणपति जी की स्थापना अपने घरों में की और जमकर सडकों पर नाचते दिखाई दिए। वहीं परंपरागत तरीकों को अपनाते हुए लोगों ने अपने घरों को फूलों व अशोक के पत्तों से बंदनवार बनाकर सजाया। यही नहीं गणपति आगमन पर घरों के बाहर बनाई गई रंगोलियों में भरे रंग उनकी खुशियों को साफ जाहिर कर रहे थे।
आईपीयू के लॉ स्कूल को एनआईआरएफ रैंकिंग में मिला 12वां स्थान

खिले मूर्तिकारों के चेहरे, इको फ्रेंडली मूर्तियों की बढी मांग
सार्वजनिक रोक के चलते लोगों के गणपति जी की बढी मूर्तियों के खरीदार तो नहीं आए लेकिन छोटी-छोटी मूर्तियां हाथों-हाथ बिक गईं, जिससे मूर्तिकारों के चेहरे खिल उठे थे। एशिया की सबसे बडी कुम्हार काॅलोनी में गणपति मूर्ति बनाने वाले सुभाष प्रजापति ने बताया कि उन्होंने 400 से लेकर 25 हजार तक की मूर्तियां बनाई थीं, जिनमें सभी छोटी मूर्तियां सुबह-सुबह ही बिक गई हैं। वहीं गणपति जी के श्रृंगार का सामान भी लोगों ने खरीदा। हालांकि पिछली बार की तरह ही इस बार भी भक्तों ने इको फ्रेंडली मूर्तियों की मांग अधिक की।
सतीश उपाध्याय ने किया औचक निरीक्षण, जताई नाराजगी

मोदक की विभिन्न वेरायटी मार्केट में तैयार
गणपति जी का प्रिय भोग मोदक भी अब बाजारीकरण का शिकार तो हो गया है लेकिन सच्चाई यह भी है कि मोदक की विभिन्न वेरायटी को लोग बेहद पसंद भी कर रहे हैं। खासकर बच्चों में चाॅकलेट, वेनिला व ड्राईफ्रूटस मोदक का काफी क्रेज देखने को मिला। हालांकि खोए व नारियल के मोदक की भी काफी डिमांड हैं। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.