Tuesday, Sep 25, 2018

सोमवती अमावास्या पर गंगा मैया के जयकारों से गूंज उठी हरकी पैड़ी

  • Updated on 4/16/2018

हरिद्वार/ब्यूरो। बैसाखी स्नान को श्रद्धालुओं ने भीड़ के मामले में काफी पीछे छोड़ दिया। सोमवती के आज के स्नान पर हरकी पैड़ी और गंगा घाटों पर आस्था का सैलाब उमड़ पड़ा। गंगा मैया की जयकारे से हरकी पैड़ी गूंज उठी। श्रद्धालुओं ने धर्मनगरी के मंदिरों के भी दर्शन किये। पुलिस प्रशासन को सुरक्षा और पुख्ता करनी पड़ी। हाईवे पर वाहन रेंग कर चलते नजर आये। रेलवे और रोडवेज में श्रद्धालुओं की सामान्य दिनों की अपेक्षा काफी भीड़ रही।

वैशाखी का स्नान अबकी विगत साल की तुलना में फीका रहा। करीब 6 लाख श्रद्धालुओं ने गंगा में डुबकी लगाई जबकि पिछले साल वैशाखी पर 19 लाख लोगों के स्नान का दावा प्रशासन ने किया था। लेकिन सोमवती स्नान की पूर्व सांध्य पर धर्मनगरी में श्रद्धालुओं की भीड़ ने ये अहसास करा दिया था कि सोमवती का स्नान फीका नहीं जाएगा। सोमवती स्नान की पूर्व सांध्य से ही श्रद्धालुओं का तांता लगना शुरू हो गया था। सुबह चार बजे ब्रह्ममुहूर्त से हरकी पैड़ी पर स्नान का क्रम तेज हो गया।

अचानक हरकी पैड़ी और गंगा घाटों पर भीड़ बढ़ी। हरकी पैड़ी पर तिल रखने को जगह नहीं थी। पुलिस और प्रशासन श्रद्धालुओं को स्नान के तुरंत बाद घाट से बाहर निकालते रहे ताकि भीड़ को मैनेज किया जा सके। स्नान को लेकर लगातार हरकी पैड़ी पर भीड़ का दबाव बढ़ रहा है। दोपहर तक 14 लाख से अधिक लोगों के स्नान करने का अनुमान है। यह सिलसिला रात तक चलेगा। 

सोमवती पर बढी सुरक्षा
हरिद्वार। 16 अप्रैल को सोमवार के दिन सोमवती अमावस्या की पूर्व सांध्य पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़ के मद्देनजर पुलिस और प्रशासन ने सुरक्षा इंतजाम और कड़े कर दिए हैं। 2000 से अधिक तादाद में पुलिस की तैनाती की गई है। प्रशासन की ओर से जोनल और सेक्टर मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई है। जिलाधिकारी दीपक रावत ने बताया कि बीते रात 12 बजे से ही सोमवती का स्नान शुरू हो गया है। जिला और पुलिस प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद है। मेला को चौदह जोन और 41 सेक्टरों में बांटा गया है। 

पितरों के पूजन का अहम दिन
हरिद्वार: सोमवती अमावस्या का विशेष महत्व होता है। इस दिन को पितृ पूजन के लिए बेहद अहम माना जाता है। पितरों के पूजन से वे खुश होकर सुख और समृद्धि प्रदान करते हैं। पितरों के निमित्त श्रद्धालुओं ने सोमवती पर गंगा तट पर तर्पण और दान-पुण्य किया।

नगर निगम मायापुर के पास स्थित श्री नारायण शिला पर सुबह से पितरों के पूजन के लिए जबरदस्त भीड़ उमड़ी। मुख्य पुजारी पंडित मनोज कुमार त्रिपाठी ने बताया कि सोमवती अमावस्या के दिन गंगा स्नान और दान कर के कई अश्वमेघ यज्ञ के बराबर पुण्य लाभ प्राप्त होता है। 

सुरक्षा के बावजूद सक्रिय रहा गिरोह
हरिद्वार: हरिद्वार में लाखों श्रद्धालुओं के बीच उठाईगिर गिरोह भी सक्रिय रहे। गंगा स्नान को आने वाले कई लोगों की जेब कटी तो कई के मोबाइल गायब हो गए। बैग लेकर आने वाले कई श्रद्धालुओं के बैग भी गायब हुए। हरकी पैड़ी चौकी पर कई लोग शिकायत लेकर पहुंचे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.