Saturday, Feb 22, 2020
gaur gopal das hindi edition of lifes amazing secrets open up by bollywood actress divya dutta

गौर गोपाल दास से दिव्या दत्ता ने उजागर करवाए 'जीवन के अद्भुत रहस्य'

  • Updated on 7/19/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बॉलीवुड अभिनेत्री दिव्या दत्ता ने 18 जुलाई को आयोजित एक समारोह में लाइफ कोच गौर गोपाल दास की किताब 'लाइफ्स अमेजिंग सीक्रेक्ट्स' के हिंदी संस्करण 'जीवन के अद्भुत रहस्य' का विमोचन किया। इस मौके पर दिव्या ने ना सिर्फ किताब लॉन्च की, बल्कि गौर गोपाल दास से जीवन से जुड़े गहन सवाल भी पूछे, जिनका लाइफ कोच ने बाखूबी जवाब भी दिया। 

गुजरात: अल्पेश ठाकोर #BJP में शामिल, बोले- कांग्रेस में हो रही थी घुटन

Navodayatimes

किताब 'जीवन के अद्भुत रहस्य' का जिक्र करते हुए दिव्या ने कई ऐसे सवाल किए, जो हर किसी के जीवन से ताल्लुक रखने वाले थे। जैसे जीवन में खुशी कैसे बरकरार रखी जाए। सोशल मीडिया के दौर में भी अकेलापन क्यों इंसान को खाए जाता है?

हनुमान चालीसा पाठ को लेकर इशरत जहां निशाने पर, सियासत तेज

इसके साथ ही दिव्या ने किताबों से जुड़े कुछ प्रसंगों का जिक्र किया और गौर गोपाल दास से उनके बारे में कुछ अहम बातें उजागर करवाईं। दिव्या ने जब पूछा कि जीवन से जुड़े रहस्यों के आप से उजागर कर पाते हैं तो गौर गोपाल दास ने बताया कि इसके तीन मूल बातें हैं। पहला खूब किताबें पढ़ना, दूसरा दूसरों के खूब सुनना और तीसरा लोगों के गौर से समझना। 

कर्नाटक संकट पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला खटक रहा है कांग्रेस को

इस मौके पर गौर गोपाल दास ने स्काई डाइविंग से जुडे़ अपने अनुभव को भी जनता के बीच शेयर किया। उन्होंने बताया कि स्काई डाइविंग से पहले उन्होंने खूब जानकारी हासिल की थी, जैसे इस स्काई डाइविंग के दौरान अब तक 1200 लोगों मारे जा चुके हैं। इससे मौत का भय होना स्वाभाविक है, लेकिन इसी भय का सामना करने के लिए उन्होंने स्काई डाइविंग करने का फैसला किया। 

अयोध्या प्रकरण: SC ने दस्तावेजों के अनुवाद में विसंगतियों की याचिका लिया संज्ञान

उन्होंने बताया जब उन्होंने स्काई डाइविंग की तो तनिक भी डर नहीं लगा, बल्कि एक अद्भुत अनुभव को महसूस किया। उन्होंने बताया कि एक बार तो मन में सवाल आया कि अगर पैराशूट नहीं खुला तो, लेकिन बावजूद इसके उन्होंने बड़ा रिस्क लिया। 46 वर्षीय गौर गोपाल दास ने बताया कि मन और पैराशूट एक ही तरह के हैं, जब तक नहीं खुलते अपना असर नहीं दिखाते हैं। 

मुजफ्फरपुर कांड: TISS परियोजना को पीड़ितों से बात की इ्जाजज मिली

गौर गोपाल दास की किताब 'जीवन के अद्भुत रहस्य' जीवन में संतुलन और मकसद पाने के तरीकों के उजागर करती है। पेपरबैक संस्करण वाली इस किताब का मूल्य 199 रुपये हैं और इसमें गौर गोपाल दास ने अपने अनुभवों को भी शेयर किया है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.