Friday, May 14, 2021
-->
gautam-gambhir-nomination-papers-accepted-by-ec-ramesh-bidhuri-case-pending-aap-objections

गौतम गंभीर का नामांकन पत्र स्वीकार, बिधूड़ी के नामांकन पत्र पर फंसा पेंच

  • Updated on 4/24/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। AAP ने आरोप लगाया है कि दक्षिणी दिल्ली संसदीय क्षेत्र से भाजपा के उम्मीदवार रमेश बिधूड़ी का नामांकन पत्र आवेदन निर्वाचन अधिकारी ने गैरकानूनी तरीके से स्वीकार किया है। पार्टी इसे दिल्ली उच्च न्यायालय में चुनौती देगी।  AAP द्वारा बुधवार को जारी बयान के अनुसार दक्षिणी दिल्ली सीट से पार्टी उम्मीदवार राघव चड्ढा निर्वाचन अधिकारी के फैसले को उच्च न्यायालय में चुनौती देंगे। 

दुष्यंत चौटाला बोले, JJP-AAP गठबंधन को विकल्प के रूप में देख रहे हैं लोग

ममता बनर्जी ने नरेंद्र मोदी को नोटबंदी और कालेधन पर लपेटा

उधर, चुनाव आयोग ने पूर्वी दिल्ली से भाजपा उम्मीदवार गौतम गंभीर के नामांकन पत्र को स्वीकार कर लिया है, जबकि रमेश बिधूड़ी के मामला फंसता नजर आ रहा है। उधर बिधूड़ी ने अपनी सफाई चुनाव आयोग को भेज दी है और अपनी खामियों को दुरुस्त करने का भरोसा दिया है। लेकिन आम आदमी पार्टी ने इसे गंभीरता से लिया है। 

BJP उम्मीदवार प्रज्ञा सिंह के पास है राम नाम वाली चांदी की ईंट और...

पार्टी ने निर्वाचन अधिकारी पर बिधूड़ी के नामांकन दस्तावेजों में पायी गयी खामियों को नजरंदाज करने का आरोप लगाते हुये कहा कि यह मामला अदालत में कानूनी चुनौती देने के लिये उपयुक्त है। उल्लेखनीय है कि आप उम्मीदवार चड्ढा ने बिधूड़ी के नामांकन पत्र में तकनीकी खामियों का हवाला देकर आयोग से इस पर आपत्तियां दर्ज कराते हुये इसे रद्द करने की मांग की थी। आप की पूर्वी दिल्ली से उम्मीदवार आतिशी ने भाजपा उम्मीदवार गौतम गंभीर के नामांकन पत्र में भी खामियों का जिक्र कर इस पर आपत्ति दर्ज करायी थी। 

CJI गोगोई को फंसाने की साजिश के दावे की तह तक जाएगा सुप्रीम कोर्ट

कृष्णमूर्ति बोले- नहीं दिख रहा है EVMs को कोसने का अंत

आप ने कहा कि बिधूड़ी ने नामांकन पत्र में पैरा संख्या पांच में लंबित आपराधिक मामलों खासकर बिहार के मुजफ्फरपुर में दर्ज आपराधिक मामले का जिक्र नहीं किया है। पार्टी ने बिधूड़ी पर बीमा निवेश, आयकर से जुड़े तथ्यों को भी छुपाने का आरोप लगाया है। इतना ही नहीं पार्टी ने बिधूड़ी पर हलफनामे में पत्नी की आय के बारे में भी गलत जानकारी देने का दावा किया है। पार्टी ने बिधूड़ी के इस बारे में चुनाव आयोग को भेजे अपने जवाब का हवाला देते हुये कहा कि उन्होंने एक आपराधिक मामले में एफआईआर होने की बात स्वीकारते हुये कहा कि वह इसके बारे में मतदाताओं को सूचित करेंगे। 

अमर सिंह बोले- आजम खान की हार रावण का पुतला जलाने जैसी बात होगी

बिधूड़ी ने निर्वाचन अधिकारी को सौंपे अपने जवाब में दलील दी है कि नामांकन के समय उन्हें बिहार में उनके खिलाफ दर्ज एफआईआर के बारे में जानकारी नहीं थी। निर्वाचन अधिकारी ने बिधूड़ी के जवाब के आधार पर उनके नामांकन पर दर्ज आपत्तियों को खारिज कर नामांकन पत्र स्वीकार कर लिया है। आप उम्मीदवार चड्ढा निर्वाचन अधिकारी के इस फैसले को उच्च न्यायालय में चुनौती देगे।  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.