Monday, Jan 24, 2022
-->
ghazipur-border-was-seen-painted-in-old-colors-farmers-arrived-in-large-numbers

पुराने रंग में रंगा दिखा गाजीपुर बॉर्डर, बड़ी संख्या में पहुंचे किसान

  • Updated on 11/26/2021

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। किसान आंदोलन के 1 साल पूरा होने पर शुक्रवार को गाजीपुर बॉर्डर पर रौनक दोबारा लौट आई। काफी दिनों बाद अच्छी-खासी संख्या में किसान आंदोलन स्थल पर देखने को मिले। मंच पर भी किसानों का जमघट लगा था जो किसान नेताओं के इस दावे पर मुहर लगा रहा था कि 26 नवम्बर को बड़ी संख्या में किसान गाजीपुर बॉर्डर पहुंचेंगे। इस दौरान किसानों का उत्साह देखते ही बन रहा था। 1 साल पूरा होने पर किसानों के बीच योगेन्द्र यादव व मेधा पाटकर जैसे चेहरे भी पहुंचे। वहीं भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत भी गाजीपुर बॉर्डर पहुंचे। 

टिकैत ने कहा कि यह जश्न नहीं है
राकेश टिकैत ने आंदोलन के एक साल पूरा होने पर कहा कि जब घर में किसी का देहांत हो जाता है तो जश्न नहीं मनाया जाता। आंदोलन के एक साल के सफर में साढे 7 सौ से ज्यादा किसानों ने अपने प्राणों की आहुति दी। उन्होंने दोहराया कि जब तक एमएसपी पर कानून, दिवंगत किसानों के लिए मुआवजा व किसानों से मुकद्दमे वापस नहीं हो जाते आंदोलन चलता रहेगा। 
 

फिर लगने लगे लंगर 
बीते लंबे समय से गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों की संख्या बहुत ज्यादा नहीं थी। इसलिए अक्सर लंगर सेवा व मंच खाली ही दिखाई पड़ते थे। लेकिन शुक्रवार को दोनों जगहों पर काफी रौनक देखने को मिली। इस दौरान लोगों के बीच मिठाई व गुड़ बांटने के लिए भी गांवों से किसान पहुंचे। 
 

पुराने चेहरों नें भरी हुंकार
आंदोलन के पुराने चेहरे रहे योगेन्द्र यादव व मेधा पाटकर ने भी गाजीपुर बॉर्डर पहुंचकर किसानों का उत्साह बढाया। योगेन्द्र यादव ने इस मौके पर कहा कि पीएम मोदी ने कृषि कानूनों की घोषणा करते वक्त कहा था कि वह किसानों को तोहफा देने जा रहे हैं। अब किसानों ने पीएम को वो तोहफा तो लौटा दिया।  एमएसपी के रूप में किसान दूसरा तोहफा मांग रहे हैं। लेकिन सरकार देने को तैयार नहीं है। वहीं मेधा पाटकर ने भी सरकार को किसानों के प्रति निष्ठुर बताया। 
 

छात्रों से लेकर कलाकारों तक ने दिया समर्थन
आंदोलन के 1 साल पूरा होने पर शुक्रवार को केवल किसान ही नहीं बल्कि छात्रों से लेकर कलाकारों ने अपना समर्थन दिया। मुरादाबाद से आए प्रोफेसर मनोज कुमार ने किसान का चित्र उकेर कर अपनी कला के जरिए समर्थन दिया वहीं एक पंजाबी सिंगर ने भी किसानों में जोश भरा। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.