Friday, Aug 19, 2022
-->
goa-congress-wants-manohar-parrikar-fitness-certificate-after-coming-from-usa

गोवा कांग्रेस को चाहिए बीमार मनोहर पर्रिकर का फिटनेस सर्टिफिकेट

  • Updated on 9/7/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस नेताओं ने आज गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा से मुलाकात की और मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के मौके अनुपस्थित रहने और उनकी कैबिनेट के 2  सहकर्मियों के अस्पताल में भर्ती होने के मद्देनजर भाजपा शासित राज्य में प्रशासन को ठप पड़ने से रोकने के लिए उनसे हस्तक्षेप की मांग की।

भारतीय रिजर्व बैंक ने बदले कटे-फटे नोट बदलने के नियम, ये हैं नए नियम

मुख्य विपक्षी पार्टी ने कहा कि पर्रिकर को काम पर लौटने से पहले फिटनेस प्रमाणपत्र देना चाहिए। पार्टी ने कहा कि मुख्यमंत्री को किस तरह की बीमारी है, उस बारे में पता नहीं चल पाया है। वहीं, 2 अन्य मंत्री गंभीर बीमारियों के चलते अस्पताल में भर्ती हैं।

मोदी सरकार पर बरसे मनमोहन सिंह, कहा- हर मोर्चे पर नाकाम

दरअसल, पर्रिकर बृहस्पतिवार को अमेरिका से घर लौटे। वह अगस्त के आखिरी हफ्ते में वहां इलाज कराने गए थे। 62 वर्षीय पर्रिकर इससे पहले भी इलाज के लिए अमेरिका में करीब 3 महीने रहे थे। उन्हें किस तरह की बीमारी है, उस बारे में कोई भी ऑफिशियल बयान नहीं आया है। हालांकि, यह बताया गया कि उनके अग्नाशय की बीमारी का इलाज चल रहा है।

पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों पर कांग्रेस ने पीएम मोदी पर साधा निशाना

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी सचिव ए चेल्लाकुमार, गोवा प्रदेश कांग्रेस प्रमुख गिरिश चोडणकर, कांग्रेस विधायक दल प्रमुख चंद्रकांत कावेलकर और पार्टी के अन्य नेताओं ने यहां दोपहर में राजभवन में राज्यपाल से मुलाकात की। मुलाकात के बाद चेल्लाकुमार ने कहा कि राज्य में सरकार पूरी तरह से ध्वस्त हो गई है, जहां भाजपा नीत गठबंधन सत्ता में है। 

गिरीश कर्नाड को 'मी टू अर्बन नक्सल' की तख्ती पहनना पड़ा भारी

उन्होंने कहा कि ऐसे हालात में राज्यपाल से हस्तक्षेप करने और राज्य प्रशासन के कामकाज को सामान्य बनाने की उम्मीद है। चेल्लाकुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री इलाज के लिए अक्सर ही अमेरिका जा रहे हैं, लेकिन उन्हें किस तरह की बीमारी है, उसका राज्य सरकार ने लोगों के बीच खुलासा नहीं किया है। कांग्रेस नेता ने कहा कि दो अन्य मंत्री, पांडुरंग मडकैकर और फ्रांसिस डिसूजा गंभीर बीमारियों के चलते अस्पताल में भर्ती हैं।  

स्मृति ईरानी ने रायबरेली में बोला गांधी-नेहरू परिवार पर तीखा हमला

चोडणकर ने कहा कि कांग्रेस ने राज्यपाल से दखल की मांग करते हुए अप्रैल और मई में उन्हें 2 ज्ञापन सौंपे थे। लेकिन उन्होंने कोई कदम नहीं उठाया। प्रदेश कांग्रेस प्रमुख ने यह मांग की कि पर्रिकर काम पर लौटने से पहले फिटनेस सर्टिफिकेट मुहैया करें। उन्होंने दावा किया कि जब पर्रिकर न्यूयार्क में इलाज करा रहे थे, तब उनके हस्ताक्षर लेने के लिए वहां फाइलें ले जाने के वास्ते अधिकारियों को तैनात किया गया था।

नवजोत सिद्धू बोले- पाक ने दी करतारपुर साहिब गुरुद्वारा तक जाने की इजाजत

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.