Friday, May 27, 2022
-->
google will invest one billion dollars in bharti airtel, will also buy stake rkdsnt

भारती एयटेल में एक अरब डॉलर का निवेश करेगी गूगल, हिस्सेदारी भी खरीदेगी

  • Updated on 1/28/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। इंटरनेट क्षेत्र की प्रमुख कंपनी गूगल दूरसंचार कंपनी भारती एयरटेल में एक अरब डॉलर का निवेश करेगी। इस करार में इक्विटी निवेश के साथ-साथ संभावित वाणिज्यिक समझौतों के लिए एक कोष भी शामिल है, जिसके तहत समझौतों को अगले पांच वर्षों के दौरान पारस्परिक रूप से सहमत शर्तों पर मंजूरी दी जाएगी। गूगल यह निवेश गूगल फॉर इंडिया डिजिटाइजेशन फंड के तहत कर रही है। 

BJP ने 2019-20 में घोषित की 4,847 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्ति : ADR

 

एयरटेल ने एक बयान में कहा, ‘‘इस निवेश सौदे में 70 करोड़ डॉलर का इक्विटी निवेश भारती एयरटेल में 734 रुपये प्रति शेयर की कीमत पर किया जाएगा।’’ कुल निवेश में से 30 करोड़ डॉलर की राशि वाणिज्यिक समझौतों के क्रियान्वयन के लिए होगी। भारती एयरटेल के निदेशक मंडल ने पांच रुपये के अंकित मूल्य वाले 71,176,839 इक्विटी शेयर गूगल इंटरनेशनल एलएलसी को तरजीही आधार पर 734 रुपये प्रति शेयर की कीमत पर जारी करने की मंजूरी दी है जो कुल 5,224.3 करोड़ रुपये मूल्य के हैं। 

सरकार ने TATA को हस्तांतरण से पहले Air India के करोड़ों का कर्ज, देनदारियां भी चुकाईं

भारती एयरटेल के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल ने एक बयान में कहा, ‘‘एयरटेल और गूगल नवोन्मेषी उत्पादों के जरिये भारत के डिजिटल लाभांश को बढ़ाने का दृष्टिकोण साझा करती हैं। भविष्य के लिहाज से तैयार हमारे नेटवर्क, डिजिटल मंच, अंतिम-छोर तक के वितरण और भुगतान पारिस्थितिकी तंत्र के साथ हम भारत के डिजिटल पारिस्थितिकी तंत्र के विस्तार के लिए गूगल के साथ मिलकर काम करने को उत्सुक हैं।’’ 

प्रधानमंत्री मोदी ने उत्तराखंड टोपी के बाद NCC रैली में पहनी सिख पगड़ी

गूगल के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुंदर पिचाई ने कहा, ‘‘एयरटेल में हमारा वाणिज्यिक और इक्विटी निवेश हमारे गूगल फॉर इंडिया डिजिटाइजेशन फंड के स्मार्टफोन तक पहुंच, नए कारेबारी मॉडल को समर्थन देने के लिए कनेक्टिविटी बढ़ाने और डिजिटल रूपांतरण की यात्रा में कंपनियों के मदद देने के अनुरूप है।’’ 

आर्सेलर मित्तल निप्पन स्टील इंडिया गुजरात में करेगी निवेश 
गुजरात सरकार ने कहा कि आर्सेलर मित्तल निप्पन स्टील इंडिया (एएमएनएस इंडिया) राज्य में छह अलग-अलग परियोजनाओं में 1,66,000 करोड़ रुपये निवेश करेगी। कंपनी का सूरत के हजीरा में इस्पात संयंत्र है। राज्य सरकार ने एक बयान में कहा कि प्रस्तावित निवेश को लेकर समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये गये। समझौते पर अतिरिक्त मुख्य सचिव (उद्योग और खान) राजीव कुमार गुप्ता और कंपनी की तरफ से उसके भारत में मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) दिलीप ओमेन ने दस्तखत किये। 

प्रदर्शनकारी युवाओं के समर्थन में राहुल गांधी ने पूछा - कौन कहता है ये अच्छे दिन हैं

 

गांधीनगर में हुए इस समझौते के मौके पर गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल भी मौजूद थे। बयान के अनुसार, स्टील कंपनी हजीरा में निजी उपयोग वाले जेटी के विस्तार और आधुनिकीकरण को लेकर 4,200 करोड़ रुपये और हजीरा प्लांट की इस्पात उत्पादन क्षमता को मौजूदा 86 लाख सालाना से बढ़ाकर 1.8 करोड़ टन सालाना करने के लिये 45,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। इसके अलावा कंपनी सूरत में सुवाली में अपने संयंत्र का विस्तार करने के लिये 30,000 करोड़ रुपये और सूरत में किदियाबेट में सूरत स्टील सिटी और औद्योगिक संकुल विकसित करने को लेकर 30,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी।
 

छात्रों के खिलाफ ‘पुलिस कार्रवाई’ को लेकर NHRC में शिकायत, प्रियंका भी सक्रिय

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.