Sunday, Nov 27, 2022
-->
governor dhankhar asks to make public notification on pegasus probe in west bengal rkdsnt

पश्चिम बंगाल में पेगासस जांच पर राज्यपाल धनखड़ ने अधिसूचना सार्वजनिक करने को कहा

  • Updated on 12/15/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने बुधवार को इस बात पर निराशा जतायी कि मुख्य सचिव एचके द्विवेदी ने उनके पत्र पर ‘‘संज्ञान तक नहीं लिया’’ जिसमें उन्होंने स्पाईवेयर सॉफ्टवेयर पेगसस का उपयोग करके फोन टैप करने की कथित घटना की जांच के लिए राज्य सरकार द्वारा गठित समिति की जानकारी मांगी थी। धनखड़ ने द्विवेदी से कहा कि वह राज्य सरकार द्वारा इस मामले की जांच के लिए गठित समिति की अधिसूचना बृहस्पतिवार शाम तक सार्वजनिक करें। 

लखीमपुर-खीरी हिंसा मामला : राहुल गांधी बोले- अजय मिश्रा को देना होगा इस्तीफा, जाना पड़ेगा जेल

 

राज्यपाल ने मुख्य सचिव को लिखी चिट्ठी में कहा, ‘‘यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण और गंभीर चिंता का विषय है कि उसका जवाब तो दूर रहा, उसका संज्ञान भी नहीं लिया गया है। यह गंभीर प्रशासनिक चूक का संकेत है और दिखाता है कि यह ‘संवैधानिक नियमों’ और ‘विधि के शासन’ नहीं है।’’ धनखड़ ने कहा कि उन्होंने द्विवेदी से 11 दिसंबर को हुई बातचीत में उन्हें इसकी याद दिलाई थी। 

सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की OBC के SECC 2011 के जातिगत आंकड़ों से जुड़ी याचिका

उन्होंने कहा, ‘‘मुख्य सचिव को अंतिम अवसर दिया जा रहा है कि वह अंनंतिम कल शाम पांच बजे तक अधिसूचना जारी करें और अधिसूचना जारी करने के लिए अपनाई गई पूरी प्रक्रिया को भी सार्वजनिक करें।’’ राज्य सरकार ने उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश जस्टिस मदन बी लोकुर और कलकत्ता उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश ज्योतिर्मय भट्टाचार्य की एक जांच समिति गठित की है। 

महंगाई की मार : थोक मुद्रास्फीति बढ़कर 14.23 फीसदी पर, 12 साल का उच्चस्तर

धनखड़ ने कहा कि उन्होंने पहले भी कहा था कि अधिसूचना की प्रति उन्हें 10 दिसंबर तक उपलब्ध करायी जाए। जुलाई में गठित जस्टिस लोकुर और जस्टिस भट्टाचार्य की समिति के समक्ष पेगासस मामले में प्रत्यक्ष रूप से कथित रूप से प्रभावित होने का दावा करने वालों की बात 13 दिसंबर से सुनने वाले थे। 

‘सेक्स कांड’ में शामिल मंत्री का नाम राज्यपाल को बताया: गोवा कांग्रेस प्रमुख 


 

comments

.
.
.
.
.