Tuesday, May 17, 2022
-->
govt-school-auditoriums-are-getting-ready-for-ptm

सरकारी स्कूलों के सभागार पीटीएम के लिए हो रहे तैयार

  • Updated on 7/13/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) के नए अनलॉक नियमों में दिल्ली में ऑडिटोरियम, स्कूलों व शैक्षिक संस्थानों के सभागारों को बैठकों के लिए 50 फीसद क्षमता से खोलने की अनुमति मिल चुकी है। जिसके बाद स्कूलों ने 19 से 31 जुलाई के बीच आयोजित की जाने वाली पैरेंट टीचर मीटिंगों के लिए सभागारों को तैयार करना शुरू कर दिया है। 

NEET परीक्षा 12 सितंबर को, आज से उम्मीदवार कर सकेंगे आवेदन

बैठकों के माध्यम से अभिभावक स्कूल में कोविड सुरक्षा की भी कर लेंगे जांच 
इन बैठकों से अभिभावकों को स्कूल में कोविड-19 के खिलाफ की गई सुरक्षा व्यवस्था भी देखने को मिल जाएगी। इसके अलावा इस फैसले से दिल्ली में शिक्षकों की ऑफलाइन ट्रेनिंग के लिए भी अवसर बनेगा। हालांकि स्कूलों द्वारा कक्षाएं अभी ऑनलाइन ही संचालित की जाएंगी। स्कूल फिलहाल छात्रों के लिए पहले की ही भांति बंद रहेंगे। हां इतना जरूर है कि दिल्ली सरकार स्कूलों को फिर से खोलने पर संबंधित हितधारकों से बातचीत शुरू कर सकती है।

JEE Mains का तीसरा चरण 20 से, मॉक टेस्ट और फॉर्मूले बनेंगे सफलता की कुंजी

अभिभावकों को पढ़ाई और कोविड काल में उनकी भूमिका के बारे में मिलेगी जानकारी
19 जुलाई से आयोजित होने जा रही पैरेंट टीचर मीटिंग में अभिभावकों को बच्चों की आगे की पढ़ाई और कोरोना काल में ब'चों के प्रति उनकी भूमिका से संबंधित जानकारी दी जाएगी। यह पीटीएम सुबह की शिफ्ट वाले स्कूलों में सुबह 8.30 बजे से लेकर दोपहर 12.30 बजे तक और शाम वाली शिफ्ट के स्कूलों में दोपहर 2 बजे से लेकर रात शाम 6 बजे तक आयोजित की जाएगी।

CBSE 10th Result: इंतजार जल्द होगा खत्म, 20 जुलाई को आएगा रिजल्ट

निगम स्कूलों से छठवीं कक्षा में दाखिला लेने वाले बच्चों के लिए होगी विशेष पीटीएम
इसके अलावा कक्षा 6 के लिए विशेष संयुक्त पीटीएम का आयोजन होगा। हर साल लगभग 1.5 लाख बच्चे प्लान एडमिशन के तहत निगम स्कूलों से दिल्ली सरकार के स्कूलों में कक्षा 6 में दाखिला लेते हैं। ये पीटीएम इन बच्चों के लिए काफी महत्वपूर्ण होगी। कक्षा 6 के लिए होने वाले पीटीएम में एमसीडी स्कूलों के कक्षा 5 में पढ़ाने वाले शिक्षक भी शामिल होंगे क्योंकि वे बच्चों को पिछले 5 सालों से जानते हैं।

comments

.
.
.
.
.