Sunday, Dec 05, 2021
-->
greta thunberg shares plan of campaign against  india sohsnt

भारत के खिलाफ कैंपेन का प्लान ट्वीट कर बुरी फंसी ग्रेटा, कंगना ने कहा- एक ही टीम में सारे पप्पू

  • Updated on 2/4/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटिल। स्वीडन की पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) ने भारत में चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में एक ट्वीट किया, जिसे उन्होंने कुछ ही देर बाद डिलीट कर दिया है। ग्रेटा ने ट्विटर पोस्ट के जिरिए एक गुगल डॉक्युमेंट फाइल शेयर की थी, जिसमें आंदोलन के समर्थन में सोशल मीडिया कैंपेन का समय दिया गया था, ग्रेटा ने डॉक्यूमेंट पोस्ट के साथ टूलकिल शब्द का भी इस्तेमाल किया था, जिसके बाद से उन्हें लगातार ट्रोल किया जा रहा है।

सचिन- कोहली के ट्वीट पर भड़के शशि थरूर, कहा- ऐसे नहीं सुधर सकती भारत की छवि
 

बता दें कि ग्रेटा ने जिस डॉक्यमेंट को शेयर किया था, उसमें भारत सरकार पर किसान आंदोलन के समर्थन में अंतर्राष्ट्रीय दबाव बनाने की पूरी प्लानिंग साझा की गई थी। जब ग्रेटा को इस ट्वीट के लिये ट्रोल किया जाने लगा तो उन्हें अपनी गलती का एहसास हुआ और उन्होंनो आनन-फानन में इस ट्वीट को डिलीट कर दिया, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी, कई लोगों ने इस ट्वीट का स्क्रीनशॉट ले लिया था और इसे धड़ल्ले से सोशल मीडिया पर शेयर पर किया जाने लगा। ट्विटर पर देखते ही देखते ग्रेटा की इस पोस्ट को लेकरएक्सपोज ग्रेटा ट्रेंड करने लगा।

विदेशी हस्तियों को सरकार की नसीहत, Farmers Protest पर जांच- परख कर बोलें

ग्रेटा ने द्वारा शेयर किए गए डॉक्यूमेंट को लेकर कई तरह के सवाल उठने लगा। फाइल को देखकर स्पष्ट रूप से पता चल रहा था कि ये एक मुहिस के तहत किया गया कार्य है। इसके तुरंत बाद विदेश मंत्रालय हरकर में आ गया और एक बयान जारी कर कहा कि विदेशी हस्तियां बिना किसी तथ्य को जाने हैशटैग कैंपेन में न फंसें। 

भारत ने विदेशों की मशहूर हस्तियों एवं अन्य लोगों की टिप्पणियों पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए बुधवार को कहा कि कृषि सुधारों के बारे में देश के किसानों के एक बहुत ही छोटे वर्ग को कुछ आपत्तियां हैं और विरोध प्रदर्शन के बारे में टिप्पणी करने की जल्दबाजी से पहले तथ्यों की जांच परख की जानी चाहिए। विदेश मंत्रालय ने अपने बयान में कहा, 'खास तौर पर मशहूर हस्तियों एवं अन्य द्वारा सोशल मीडिया पर हैशटैग और टिप्पणियों को सनसनीखेज बनाने की ललक न तो सही और न ही जिम्मेदाराना होती है।' 

Farmer Protest को ग्लोबल सेलिब्रिटीज का साथ, रिहाना के बाद ग्रेटा थनबर्ग ने किया ये

विदेश मंत्रालय की यह प्रतिक्रिया ऐसे समय में आई है जब अमेरिकी पॉप गायिका रिहाना और स्वीडन की जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग सहित कई मशहूर हस्तियों ने भारत में किसानों के विरोध प्रदर्शन के बारे में ट्वीट किया है ।       मंत्रालय ने यह भी कहा कि भारत के संसद ने कृषि क्षेत्र से जुड़ा सुधारवादी विधेयक पारित किया है। इसमें कहा गया है कि कुछ निहित स्वार्थी समूहों ने भारत के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय समर्थन जुटाने का प्रयास किया। 

कंगना रनौत ने ग्रेटा पर साधा निशाना
ग्रेट थनबर्ग के ट्वीट के मामले में बॉलीवुड क्वीन कंगना रनौत ने उन्हों आड़े हाथों ले लिया। कंगना ने ट्वीट कर लिखा, 'इस पागल लड़की ने लेफ्ट वालों के लिए एक नई मुसीबत खड़ी कर दी। भारत को अस्थिर करने के उनके इंटरनेशनल प्रोपेगेंडा को ट्वीट कर दिया है, जो कॉन्फिडेंशियल रहा है। सब पप्पू एक ही टीम में हैं।'

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.