Tuesday, Jan 18, 2022
-->
gseb board cancels 12th exam gujarat government bhupendrasinh chudasama pragnt

GSEB 12th Exam: CBSE के बाद अब गुजरात बोर्ड ने भी कैंसिल की 12वीं की परीक्षा

  • Updated on 6/2/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर की वजह से पूरे देश में हाहाकार मचा हुआ है। आए दिन देश में रिकॉर्ड तोड़ मामले सामने आ रहे हैं। कोरोना की मौजूदा स्थिति को देखते हुए सीबीएसई-सीआईएससीई और अन्य राज्य बोर्ड की 12वीं की परीक्षाएं रद्द कर दी गई है। अब खबर है कि गुजरात सरकार ने भी राज्य में कक्षा 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं को रद्द करने का फैसला किया है। इसकी जानकारी राज्य के शिक्षा मंत्री भूपेंद्र सिंह ने दी है।

गुजरात के शिक्षा मंत्री भूपेंद्र सिंह चूडासमा ने मंगलवार को बताया कि गुजरात माध्यमिक और उच्च माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने कक्षा 12वीं की बोर्ड परीक्षा रद्द की।

CBSE 12वीं की परीक्षा रद्द, PM मोदी की बैठक में लिया गया फैसला

गुजरात बोर्ड की 01 जुलाई से 10वीं और 12वीं की परीक्षा
इससे पहले मंगलवार को ही गुजरात माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (GSEB) ने घोषणा की थी क‍ि कक्षा 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं 01 जुलाई 2021 से शुरू हो रही हैं। इतना ही नहीं गुजरात बोर्ड ने इन एग्जाम्स का पूरा टाइम टेबल जारी कर दिया। बोर्ड की वेबसाइट gseb.org पर नया टाइम टेबल जारी किया गया। देश में कोरोना के जैसे हालात है ऐसे समय में बच्चों की सेहत को खतरे में डालना जोख‍िम से भरा कदम हो सकता है।

CBSE के बाद अब इस बोर्ड ने रद्द की 12वीं की परीक्षा, जारी किया नोटिस

12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा रद्द
बता दें कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर के मद्देनजर केंद्र सरकार ने मंगलवार को केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा रद्द करने का निर्णय लिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह फैसला छात्रों के हितों को ध्यान में रखकर लिया गया है। प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में हुई एक महत्वपूर्ण बैठक के बाद इस फैसले की घोषणा की गई। साथ ही यह फैसला भी हुआ कि सीबीएसई 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों के परिणामों को समयबद्ध तरीके से एक पूर्णत: स्‍पष्‍ट उद्देश्यपरक मानदंड के अनुसार संकलित करने के लिए आवश्‍यक कदम उठाएगा।

CBSE 12वीं की परीक्षा रद्द होने के बाद अब कैसे निकलेगा रिजल्ट?

छात्रों के हित में लिया गया फैसला - PM मोदी
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'छात्रों का स्वास्थ्य और उनकी सुरक्षा सबसे महत्वपूर्ण है और इससे किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जा सकता है।' उन्होंने कहा कि परीक्षा को लेकर छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों की उत्सुकता को समाप्त किया जाना चाहिए। प्रधानमंत्री ने कहा कि ऐसे तनाव भरे माहौल में छात्रों को परीक्षा में शामिल होने को लेकर दबाव नहीं डाला जाना चाहिए। पीएमओ ने कहा, 'कोविड के कारण उत्‍पन्‍न अनिश्चित परिस्थितियों और विभिन्न हितधारकों से प्राप्त राय एवं सुझावों को ध्‍यान में रखते हुए यह निर्णय लिया गया कि इस वर्ष 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं नहीं कराई जाएंगी।'

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.