Thursday, Feb 02, 2023
-->
gst-commutes-delhi-mercenaries-department-gives-notice

50 हजार से ज्यादा व्यापारियों पर गिरी GST की गाज, विभाग ने थमाया नोटिस

  • Updated on 10/13/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश का राजधानी दिल्ली में व्यापारियों की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। दरअसल, व्यापार एवं कर विभाग ने ऐसे 50 हजार से अधिक व्यापारियों को नोटिस भेजा है,जिन्होंने समय पर जीएसटी का भुगतान नहीं किया।

ये व्यापारी वो हैं जिन्होंने जीएसटी कके लिए आवेदन भी नहीं किया है। व्यापार एवं कर विभाग द्वारा उठाए गए इस कदम का जहां कुछ व्यापारियों ने विरोध जताया है वहीं कुछ में इसको लेकर हड़कंप का माहौल है। 

कैलाश गहलोत के घर फिर पड़ा आयकर विभाग का छापा, हुआ ये बड़ा खुलासा

इस बारे में व्यापार एवं कर विभाग के आयुक्त एच. राजेश प्रसाद ने बताया कि दिल्ली का राजस्व बढ़ाने के लिए विभाग ने टैक्स डिफॉल्टर और रिटर्न डिफॉल्टर के खिलाफ अभियान शुरु कर दिया है।

इस अभियान को सफल बनाने के लिए विभाग ने व्यापक स्तर पर छापेमारी व जांच की है। इस अभियान के दौरान  जांच की गई कि बिना पंजीकरण के कौन व्यापार कर रहा है।

जीएसटीआर-3बी रिटर्न फाइल करने, लोगों से टैक्स लेने के बाद सरकार को जमा न करने पर नोटिस भेजे जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि फर्जी बिल की जांच करने के लिए 10 फीसदी नए पंजीकरण व टैक्स पेयर की जांच की गई है।
मोबाइल टीम ने दिल्ली में एक से दूसरी जगह व दिल्ली के बाहर से आने वाले सामान की जांच की। 

DMRC बनाएगी इस रेलवे और मेट्रो स्टेशन के बीच Foot Over Bridge, दर्जन कॉलोनी के लोगों को मिलेगा लाभ

उन्होंने आगे कहा कि जीएसटी नियम के तहत जो व्यापार नहीं कर रहा, उनके खिलाफ सख्ती की जा रही है। वहीं आयुक्त ने बताया कि बड़ी संख्या में कारण बताो नोटिस जारी किए गए हैं। 50 हजार व्यापारियों को नोटिस भेजे गए हैं। उधर, व्यापारियों ने सरकार के सामने दिवाली तक जीएसटी के नियमें से छूट देने की मांग रख दी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.