Sunday, Jan 19, 2020
gujarat government made helmet optional in cities

गुजरात सरकार ने शहरों में हेलमेट पहनना बनाया वैकल्पिक

  • Updated on 12/5/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। संशोधित मोटर वाहन अधिनियम (Motor vehicle act) के कड़े प्रावधानों में एक और ढील देते हुए गुजरात सरकार ने बुधवार को नगर निगम और नगरपालिका क्षेत्रों के अंदर अनिवार्य हेलमेट नियम को शिथिल बना दिया लेकिन राजमार्गों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में दोपहिया वाहन सवारों के लिए हेलमेट अनिवार्य बना रहेगा।

हेलमेट को बोझ समझने वाले लोग कर रहे हैं अपनी जिंदगी से खिलवाड़

नगर निगम और नगरपालिका ने लिया निर्णय
दोपहिया वाहन सवारों के लिए हेलमेट पहनना ऐच्छिक बनाने का फैसला राज्य मंत्रिमंडल ने इस कानून के अनिवार्य हेलमेट नियम के विरूद्ध सरकार को कई प्रतिवेदन मिलने के बाद किया है। कुछ महीने पहले इस कानून में संशोधन किया गया था।

Alert : अब पुराने टायरों पर भी कटेगा चालान, पढ़ें कितने किलोमीटर पर बदलें टायर

मंत्रिमंडल की बैठक के बाद गांधीनगर में परिवहन मंत्री आर सी फालदू ने संवाददाताओं से कहा कि मंत्रिमंडल ने नगर निगम और नगरपालिका क्षेत्रों में हेलमेट पहनने के नियम को ऐच्छिक बनाने का निर्णय लिया है। इस नियम में ढील का तात्पर्य है कि पुलिस गुजरात के शहरी क्षेत्र में दोपहिया वाहन सवारों के हेलमेट नहीं पहनने वाले पर उन पर जुर्माना नहीं लगा पाएगी।

comments

.
.
.
.
.