Wednesday, Dec 01, 2021
-->
gujarat mp mansukh vasava gave shock  bjp resigned from membership write to pm modi rkdsnt

गुजरात से सांसद मनसुख वसावा को मनाने में जुटी भाजपा

  • Updated on 12/29/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। जनजातीय मामलों पर मुखर रहने वाले गुजरात (Gujarat) से सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री मनसुख वसावा (Mansukh Vasava) ने मंगलवार को भाजपा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया और कहा कि वह संसद के बजट सत्र के बाद लोकसभा के सदस्य के तौर पर भी इस्तीफा दे देंगे। इसके बाद गुजरात भाजपा  में हलचल मच गई है। उन्हें मनाने की पूरी कोशिश की जा रही है। खास बात यह है कि वसावा ने पीएम मोदी को भी अपनी परेशानी से अवगत कराया था।

यूपी में वकील से दुर्व्यवहार पर प्रशांत भूषण ने उठाए सवाल, हाई कोर्ट ने लिया संज्ञान

वसावा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पिछले सप्ताह पत्र लिखकर मांग की थी कि पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय की नर्मदा जिले के 121 गांवों को पर्यावरण के लिहाज से संवेदनशील क्षेत्र घोषित करने संबंधी अधिसूचना वापस ली जाए। 

कृषि कानूनों को लेकर कृषि मंत्री तोमर बोले- जल्द गिरेगी ‘झूठ की दीवार’

भरूच से छह बार सांसद रहे वसावा ने गुजरात भाजपा अध्यक्ष आर सी पाटिल को लिखे पत्र में कहा, ‘‘मैं इस्तीफा दे रहा हूं, ताकि मेरी गलतियों के कारण पार्टी की छवि खराब न हो। मैं पार्टी का वफादार कार्यकर्ता रहा हूं, इसलिए कृपया मुझे माफ कर दीजिए।’’ वसावा ने 28 दिसंबर को पाटिल को लिखे पत्र में कहा कि वह संसद के बजट सत्र के दौरान लोकसभा अध्यक्ष से मुलाकात के बाद भरूच से सांसद के तौर पर इस्तीफा दे देंगे। 

मोदी सरकार ने अगले दौर की वार्ता के लिए किसान संगठनों को बुलाया

वसावा ने कहा कि उन्होंने पार्टी का वफादार बने रहने और पार्टी के मूल्यों को अपने जीवन में आत्मसात करने की पूरी कोशिश की। उन्होंने कहा, ‘‘मैं अंतत: एक मनुष्य हूं और मनुष्य गलतियां कर देता है। पार्टी को मेरी गलतियों के कारण नुकसान नहीं हो, यह सुनिश्चित करने के लिए मैं पार्टी से इस्तीफा दे रहा हूं और पार्टी से माफी मांगता हूं।’’ 

निशानेबाज वर्तिका सिंह के आरोप को लेकर कांग्रेस ने स्मृति ईरानी का मांगा इस्तीफा

भाजपा प्रवक्ता भरत पंड्या ने कहा कि पार्टी को सोशल मीडिया के जरिए इस्तीफा मिला। पंड्या ने कहा, ‘‘पाटिल ने उनसे बात की है और उन्हें भरोसा दिलाया है कि उनकी हर समस्या का समाधान किया जाएगा। वसावा गुजरात में पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं सांसद हैं और हम उनकी सभी समस्याओं को सुलझाएंगे।’’

किसान आंदोलन को लेकर अन्ना हजारे ने तोड़ी चुप्पी, मोदी सरकार को चेतावनी

 

 

 

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...


 

comments

.
.
.
.
.