Sunday, Dec 04, 2022
-->
hafiz-saeed-was-not-allowed-to-be-at-his-favorite-place-of-eid-prayers

हाफिज को अपने पसंदीदा स्थान पर नहीं करने दिया गया ईद की नमाज का नेतृत्व

  • Updated on 6/5/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मुंबई हमलों के सरगना एवं जमात उद दावा (जेयूडी) प्रमुख हाफिज सईद (hafiz saeed) को कई बरसों में पहली बार सरकार ने यहां कद्दाफी स्टेडियम में बुधवार को ईद की नमाज का नेतृत्व नहीं करने दिया। हालांकि, यह उसका पसंदीदा स्थान है। इसके बाद, सईद ने यहां अपने जौहर कस्बा स्थित आवास के पास एक स्थानीय मस्जिद में नमाज अदा की।    

इमरान को देने के लिए सांप के चमड़े से बने चप्पल जब्त, 50 हजार के जुर्माने के बाद वापस

उसके संगठन जेयूडी (JUD) को संयुक्त राष्ट्र (US) ने आतंकवादी संगठन (Terrorist organization) घोषित कर रखा है। इस घटनाक्रम से करीबी तौर पर जुड़े एक अधिकारी ने बताया, ‘‘जेयूडी प्रमुख सईद कद्दाफी स्टेडियम में नमाज का नेतृत्व करना चाहता था लेकिन उसे एक दिन पहले (मंगलवार को) पंजाब सरकार के एक अधिकारी ने ऐसा नहीं करने को कहा था। यदि वह अपनी योजना (ईद की नमाज का नेतृत्व करने) पर आगे बढ़ता है तो सरकार उसे गिरफ्तार कर सकती है। ’’

दिल्ली: नमाज के दौरान नमाजियों पर चढ़ी होंडा सिटी कार, कई घायल

उन्होंने बताया कि सरकार के निर्देश के बाद सईद के पास कोई और विकल्प नहीं था और उसने कद्दाफी स्टेडियम में नमाज का नेतृत्व करने की अपनी योजना रद्द कर दी। गौरतलब है कि सईद इस स्टेडियम में कई बरसों से ईद और बकरीद की नमाज का नेतृत्व करता आ रहा था। साथ ही, सरकार उसे पुख्ता सुरक्षा भी मुहैया कराती थी। अतीत में सईद ने सिर्फ नमाज का नेतृत्व करता था, बल्कि इस तरह के धार्मिक उत्सवों पर भारी भीड़ के समक्ष खासतौर पर कश्मीर के बार में अपने विचार भी प्रकट करता था।    

फ्री मेट्रो योजना पर बोली पूर्व CM शीला दीक्षित- अपने फायदे के लिए AAP ने किया ये ऐलान    

मुंबई हमलों (mumbai attack) के बाद सईद को 10 दिसंबर 2008 संयुक्त राष्ट्र ने प्रतिबंधित कर दिया था। इस हमले में 166 लोग मारे गए थे। समझा जाता है कि जेयूडी लश्कर ए तैयबा का मुखौटा संगठन है, जो मुंबई हमलों को अंजाम देने के लिए जिम्मेदार है।  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.