Monday, Oct 22, 2018

हेयर डाई हो सकती है खतरनाक, स्किन एलर्जी का बन सकती है कारण

  • Updated on 10/8/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बढ़ती उम्र मे बालों का काला रखने औक खुद का जवां दिखाने के लिए क्या-क्या नहीं करते है। बालों की सफेदी को छुपाने के लिए कई सारे केमिकल युक्त डाई का प्रयोग किया जाता है। हेयर डाइ बालों को तो काला कर देती है लेकिन कई बार स्कैल्प पर बुरा असर डालती है। इसके लगातार प्रयोग से बालों की स्किन पर लाल निशान, धब्बे, दाने या रैशेज पड़ जाते हैं जो खतरनाक साबित होते हैं।

हेयर डाई के लगातार प्रयोग से स्किन की एलर्जी का खरता रहता है जो आगे चलकर स्किन कैंसर का भी रुप ले सकता है। इससे बचने के लिए कई तरह के उपाय मौजूद हैं, आएये जानते हैं कि हेयर डाई के खतरनाक असर से बचने के लिए कुछ घरेलू उपाय अपनाएं, फायदा होगा...

  • एलोवेरा में एंटी बैक्टिरियल गुण होते हैं साथ ही एंटी फंगल गुण भी होते हैं। ये स्किन संबंधी किसी भी समस्या के लिए रामबाण है। हेयर डाई की इस्तेमाल करने क बाद अगर खुदली या रैशेज हो जाएं तो तुरंत एलोवेरा जेल लगा लें। इसे स्किन पर लगाकर 30 मिनट के लिए छोड़ दें। 
  • अगर हेयर डाई के कारण स्कैल्प यानी सिर की त्वचा में खुजली या इंफेक्शन सा महसूस हो रहा है तो इसे लगा सकते हैं। 

​​​​​​​Navodayatimes

  • नीम की पत्तियों के औषधि गुणों को कौन नहीं जानता। नीम में मौजूद एंटी बैक्टिरियल और एंटी फंगल गुण सिर की त्वचा को किसी भी होने वाले नुकसान से बचा सकते हैं। नीम की पत्तियों को 6 से 8 घंटे तक पानी में भिगो लें। फिर इसे पीस लें और त्वचा पर 30 मिनट तक लगाएं, फायदा होगा। 
  • नींबू के रस में एंटीसेप्टिक और एस्ट्रिजेंट गुण होते हैं जो बालों को तो बेहतर बनाते ही हैं साथ ही सिर की त्वचा को भी सही रखते हैं। दही में नींबू का रस मिलाकर लगाएं, से सिर की एलर्जी को दूर कर देगा। स्कैल्प पर थोड़ी सी भी जलन महसूस हो तो इस पेस्ट को 30 मिनट तक लगाएं और धो दें, फायदा होगा। 
Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.