Thursday, Apr 02, 2020
Hardik Patel Congress leader arrested by Gandhinagar Police after coming out Jail

हार्दिक पटेल जेल से निकलने के फौरन बाद फिर हुए गिरफ्तार

  • Updated on 1/23/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राजद्रोह के एक मामले में जमानत मिलने के एक दिन बाद गुरुवार को साबरमती केंद्रीय कारागार से बाहर आने के तुरंत बाद कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल (Hardik Patel) को गांधीनगर जिला पुलिस ने 2017 में बिना पुलिस की अनुमति के रैली करने के मामले में गिरफ्तार कर लिया। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। 

दिग्विजय बोले- मोदी-शाह को NRC के बजाय ‘नेशनल रजिस्टर ऑफ अनइंप्लॉयड यूथ’ बनाना चाहिए

अहमदाबाद की एक स्थानीय अदालत ने बुधवार को पटेल को जमानत दे दी थी, जिसके चार दिन पहले उन्हें 2015 के एक राजद्रोह के मामले में निचली अदालत में पेश होने में विफल रहने के लिए गिरफ्तार किया गया था। गुरुवार दोपहर बाद जेल से बाहर आते ही, उन्हें 2017 में पुलिस आदेश की अवहेलना करने के आरोप में उनके खिलाफ दर्ज प्राथमिकी के सिलसिले में गांधीनगर जिले की मानसा तहसील की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। 

#CAA के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव पारित करेगी राजस्थान में कांग्रेस सरकार

मानसा के पुलिस उप निरीक्षक एस एस पवार ने कहा, ‘‘आज जेल से बाहर आते ही हार्दिक पटेल को हमने गिरफ्तार कर लिया। दिसंबर 2017 में गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले उन्होंने पुलिस की अनुमति के बिना मानसा शहर में एक सभा को संबोधित किया था। उस मामले को लेकर तब प्राथमिकी दर्ज की गई थी, जिस मामले में आज उन्हें गिरफ्तार किया गया।’’ 

निर्भया मामले में डेथ वारंट जारी करने वाले जज का ट्रांसफर, उठे सवाल

गौरतलब है कि पटेल को 18 जनवरी को अहमदाबाद जिले की विरामगाम तहसील की अपराध शाखा ने 2015 के राजद्रोह मामले में निचली अदालत के सामने पेश होने में नाकाम रहने के लिए गिरफ्तार किया था। पाटीदार नेता पटेल 2019 लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में शामिल हुए थे। 

अभिनेत्री नंदिता दास ने जयपुर साहित्य उत्सव के दौरान #CAA, #NRC पर उठाए सवाल


 

comments

.
.
.
.
.