Friday, Jun 18, 2021
-->
harish-rawat-congress-says-will-support-pritam-hridayesh-name-for-claiming-cm-post-rkdnst

सीएम पद की दावेदारी के लिए प्रीतम, ह्रदयेश के नाम का करूंगा समर्थन : हरीश रावत 

  • Updated on 1/12/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस नेतृत्व को उत्तराखंड में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करने की सलाह देने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने मंगलवार को मुख्यमंत्री पद के लिए प्रीतम सिंह और इंदिरा ह्रदयेश का नाम आगे बढ़ाते हुए कहा कि वह अपने नाम को लेकर जारी असमंजस को समाप्त करना चाहते हैं। 

2021 में भी बैंकों के NPA को लेकर अलर्ट करने वाली है RBI की रिपोर्ट

एक ट्वीट में रावत ने कहा कि प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह को मुख्यमंत्री पद का चेहरा घोषित कर दिया जाना चाहिए । उन्होंने यह भी कहा कि नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह्रदयेश भी मुख्यमंत्री पद का चेहरा हो सकती हैं। उन्होंने कहा,‘‘प्रीतम सिंह सेनापति हैं। उन्हें पार्टी की ओर से मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित किये जाने का अनुरोध है । मुख्यमंत्री के चेहरे के रूप में इंदिरा ह्रदयेश जी का भी स्वागत करूँगा । मैंने अपने नाम को लेकर जो असमंजस है, उसको समाप्त किया है।‘’ 

कांग्रेस महासचिव ने पार्टी नेतृत्व से उन्हें सामूहिक नेतृत्व की पंक्ति से हटा दिए जाने का भी अनुरोध किया और कहा,‘‘ कुछ समय व्यक्ति को उन्मुक्त भी रहना चाहिये। मैं उसी दिशा में बढ़ते हुये, राजनीति के बल पर धन कमाकर अब प्रदेश की राजनीति पर कब्जा जमाने की प्रवृत्ति के विरूद्ध जन जागृति जगाने का काम करना चाहता हूँ।‘’ उन्होंने कहा, ‘‘निरंतर यह देखना भी कष्टकारक है कि कांग्रेस संगठन एक होटल की चार दीवारी में कैद होकर न रह जाय। मुझे कार्यकर्ताओं और स्वराज आश्रम की गरिमा को भी पुन: स्थापित करना है।‘’ 

पीएम मोदी ने किया साफ- पहले चरण में कोरोना टीकाकरण का खर्च उठाएगी केंद्र सरकार

रावत के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सिंह ने कहा कि वह मुख्यमंत्री पद के दावेदार नहीं हैं । उन्होंने कहा,‘‘मैं इसलिए मुख्यमंत्री पद का दावेदार नहीं हूं क्योंकि कांग्रेस में यह परंपरा नहीं है कि जो अध्यक्ष हो वही मुख्यमंत्री हो।‘’ सोमवार को हरीश रावत ने कांग्रेस नेतृत्व को उत्तराखंड में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करने की सलाह दी थी । रावत ने कहा था कि पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के बारे में साफ और स्पष्ट घोषणा से अनावश्यक कयास और कार्यकर्ताओं के स्तर तक पहुंच रही गुटबाजी थम जाएगी जिससे पार्टी कार्यकर्ताओं का मनोबल टूट रहा है। 

स्मृति ईरानी मामले में अब 16 जनवरी को होगी सुनवाई, वर्तिका ने लगाए हैं पैसे मांगने के आरोप

इसी बीच, उत्तराखंड कांग्रेस में मुख्यमंत्री चेहरे को लेकर हो रही बयानबाजी पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष भगत ने चुटकी लेते हुए कहा कि कांग्रेस की स्थिति आज ‘‘सूत न कपास जुलाहों में लठ्ठम लठ्ठ‘’ जैसी हो गई है। यहां जारी एक बयान में उन्होंने कहा,‘‘ कांग्रेस में आज हालात यह है कि उनके पास सेना तो है नहीं और न ही किसी को सेना की फिक्र है। सब बिना सेना के सेनापति बनना चाहते हैं।‘’ भगत ने कहा कि अच्छा है कि जनता ने समय से पहले ही एक बार फिर कांग्रेस की फितरत को समझ लिया है। 

 

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.