Tuesday, Aug 16, 2022
-->
haryana case filed against dig on complaint of brother kapil home minister anil vij  rkdsnt

हरियाणा : अनिल विज के भाई की शिकायत पर डीआईजी के खिलाफ केस दर्ज

  • Updated on 2/8/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। हरियाणा पुलिस ने राज्य के गृह मंत्री अनिल विज (Anil Vij) के भाई कपिल विज की शिकायत पर पुलिस उपमहानिरीक्षक (सतर्कता) अशोक कुमार के खिलाफ हमला करने, धमकी देने और अश्लील हरकत के आरोपों में मामला दर्ज किया है। पुलिस ने सोमवार को कहा कि कपिल विज रविवार दोपहर अपने दोस्त के पोते की जन्मदिन पार्टी में शरीक होने अंबाला छावनी में सरहिंद क्लब गए थे, जहां डीआईजी भी मौजूद थे। 

पीएम मोदी की अपील के बावजूद किसान अड़े, टिकैत बोले- एमएसपी पर कानून जरूरी

पुलिस सूत्रों ने कहा कि इस दौरान किसी मुद्दे को लेकर कपिल विज और डीआईजी के बीच तीखी बहस हो गई। कुछ लोगों के हस्तक्षेप से मामला सुलझा लिया गया। हालांकि, बाद में शाम के समय विज ने अंबाला छावनी सदर थाने में डीआईजी के खिलाफ शिकायत दे दी। प्राथमिकी के अनुसार विज ने आरोप लगाया कि वह व्यक्ति जिसके बारे में उन्हें बाद में पता चला कि वह डीआईजी है, उनके पास आया और बिना किसी कारण कथित रूप से उन्हें और उनके परिवार को भोजन करते समय गंदी-गंदी गालियां देनी शुरू कर दीं। 

उत्तराखंड त्रासदी : हिमालय के हिमखडों को लेकर स्टडी कर रही है बड़े संकट की ओर इशारा

विज ने कहा कि वापस लौटते समय वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी और कहा कि वह अंबाला का सतर्कता डीआईजी है और कोई उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकता। पुलिस सूत्रों के अनुसार शिकायत मिलने के बाद अंबाला के एसपी हामिद अख्तर समेत वरिष्ठ पुलिस अधिकारी रात करीब दस बजे अंबाला सदर थाना पहुंचे और डीआईजी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 323, 506 और 294 के तहत मामला दर्ज किया गया। 

यूपी के बाद हरियाणा में टिकैत ने ठोकी ताल, किसानों की मांगों पर मोदी सरकार को चेताया

 

उत्तराखंड आपदा से स्तब्ध हैं ममता, केजरीवाल मदद मुहैया कराने को तैयार

अंबाला सदर थाने के एसएचओ विनय कुमार ने सोमवार को कहा कि रविवार शाम उन्हें शिकायत मिली थी। एसएचओ ने कहा,‘‘अशोक कुमार के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 323, 506 और 294 के तहत मामला दर्ज किया गया है। जांच जारी है।‘‘ डीआईजी को प्रतिक्रिया लेने के लिये फोन किया गया ,लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया। इससे पहले, कुमार अंबाला के एसपी और रेलवे के एसपी रह चुके हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने जस्टिस शाह ने पीएम मोदी को बताया ‘लोकप्रिय, जीवंत और दूरदर्शी नेता’

 

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

 


 

comments

.
.
.
.
.