Monday, Dec 06, 2021
-->
haryana deputy cm dushyant chautala to meet pm modi farmers protest pragnt

PM मोदी से मिले हरियाणा के डिप्टी CM दुष्यंत चौटाला, किसान आंदोलन पर हुई चर्चा

  • Updated on 1/13/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। केंद्र सरकार (Central Government) के नए कृषि कानूनों (Farm Laws) को वापस लेने की मांग पर अड़े किसानों का आंदोलन 49वें दिन भी जारी है। किसान आंदोलन के बीच हरियाणा (Haryana) के उपमुख्मंत्री दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से दिल्ली में मुलाकात की। बताया जा रहा है कि यह मुलाकात कृषि कानूनों और किसान आंदोलन को लेकर हुई है।

दुष्यंत चौटाला हरियाणा में भाजपा नीत सरकार में गठबंधन साझेदार जननायक जनता पार्टी (JJP) के नेता हैं। ऐसा माना जा रहा है कि जजपा के कुछ विधायक प्रदर्शनकारी किसानों के दबाव में हैं।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश से उत्साहित सीएम खट्टर, बोले- अब किसान खत्म करें प्रदर्शन

शाह से मिले CM और दुष्यंत चौटाला
इससे पहले मंगलवार को दुष्यंत चौटाला और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) से मुलाकत की थी। गृहमंत्री से मुलाकात के बाद खट्टर और चौटाला ने कहा कि भाजपा- जजपा गठबंधन सरकार को कोई खतरा नहीं है और यह सरकार पांच साल का अपना कार्यकाल पूरा करेगी।

SC ने NGT के फैसले को ठहराया सही, 14 साल बाद अवैध मैक्लोडगंज होटल को ध्वस्त करने का दिया आदेश

हरियाणा सरकार को कोई खतरा नहीं- चौटाला
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से एक घंटे तक लंबी बैठक के बाद खट्टर और चौटाला ने कहा कि उन्होंने राज्य में मौजूदा कानून- व्यवस्था की स्थिति के बारे में बातचीत की। चौटाला ने बताया, ‘हरियाणा सरकार को कोई खतरा नहीं है और वह पांच साल का अपना कार्यकाल पूरा करेगी।’ वहीं खट्टर ने कहा, ‘सरकार के भविष्य को लेकर अनुमान लगाने का कोई औचित्य नहीं है, यह अपना कार्यकाल पूरा करेगी।’

राष्ट्रपति, PM मोदी ने देशवासियों को लोहड़ी, पोंगल समेत कई त्योहारों की दी बधाई

CM खट्टर ने कहा ये
मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा किसान प्रदर्शनों का केंद्र है इसलिए उन्होंने गृह मंत्री के साथ राज्य में कानून-व्यवस्था को लेकर बातचीत की। उन्होंने कहा, 'हमने बिना किसी परेशानी के 26 जनवरी के उत्सव के आयोजन पर भी चर्चा की।' खट्टर ने कहा कि कृषि कानूनों के अमल पर रोक लगाने के उच्चतम न्यायालय के निर्णय के बाद उन्हें उम्मीद है कि किसान अपना विरोध प्रदर्शन खत्म करेंगे। उन्होंने कहा, 'यह एक राष्ट्रीय त्योहार है और सभी इसके महत्व और इससे जुड़े मूल्यों को समझते हैं।'

विवादित ढांचा विध्वंस मामले में सुनवाई दो सप्ताह के लिए टली

डिप्टी CM ने जताई उम्मीद
चौटाला ने कहा कि उच्चतम न्यायालय ने एक समिति गठित की है और उन्हें उम्मीद है कि यह मुद्दा जल्द ही सुलझ जाएगा। खट्टर और चौटाला के साथ भाजपा और जननायक जनता पार्टी (जजपा) के प्रदेश अध्यक्ष तथा प्रदेश मंत्रिमंडल के सदस्य भी यहां नॉर्थ ब्लॉक में हुई मुलाकात के दौरान मौजूद थे।

कृषि कानूनों को लेकर इनेलो विधायक चौटाला ने भाजपा सरकार पर बढ़ाया दबाव

शाह से मुलाकात का था ये कारण
बैठक से पहले शाह और दुष्यंत ने जेजेपी के विधायकों से यहां एक फार्म हाउस में मुलाकात की, जिनमें से विधायकों के एक वर्ग का कहना था कि अगर ये कानून वापस नहीं लिए जाते हैं तो सत्तारूढ़ गठबंधन को बड़ा नुकसान पहुंचेगा। ऐसा समझा जाता है कि दुष्यंत चौटाला के नेतृत्व वाली जननायक जनता पार्टी के कुछ विधायक प्रदर्शनकारी किसानों के दबाव में हैं। 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.