Thursday, May 13, 2021
-->
haryana-did-not-take-steps-to-reduce-ammonia-in-yamuna-delhi-govt-told-court-rkdsnt

हरियाणा ने यमुना में अमोनिया कम करने को नहीं उठाये कदम: दिल्ली सरकार ने कोर्ट को बताया

  • Updated on 4/15/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली सरकार ने उच्चतम न्यायालय से कहा कि हरियाणा ने यमुना में अशोधित प्रदूषणकारी सामग्री के प्रवाह से अमोनिया का स्तर बढ़ने के मामले में ङ्क्षचताओं पर ध्यान देने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया है। आम आदमी पार्टी (आप) सरकार ने हरियाणा सरकार और उसके सिंचाई तथा जल संसाधन विभाग के जवाब पर शीर्ष अदालत में रिजॉइंडर हलफनामा दाखिल किया। 

सुप्रीम कोर्ट ने कॉलेजियम के भेजे नामों को मंजूरी देने के लिए केंद्र से मांगा जवाब

प्रधान न्यायाधीश एस ए बोबडे की अध्यक्षता वाली पीठ ने 26 मार्च को हरियाणा सरकार तथा अन्य को निर्देश दिया था कि दिल्ली को यमुना नदी के जल की आपूर्ति पर यथास्थिति बनाकर रखी जाए। इस तरह न्यायालय ने स्पष्ट कर दिया था कि राष्ट्रीय राजधानी को जल की आपूर्ति में कमी नहीं होनी चाहिए। 

प्रियंका गांधी ने यूपी में बढ़ते कोरोना कहर पर भाजपा सरकार पर साधा निशाना

इस साल जनवरी में उच्चतम न्यायालय का रुख करने वाली आप सरकार ने दिल्ली जल बोर्ड के माध्यम से हरियाणा को ये निर्देश देने का अनुरोध किया है कि यमुना में अशोधित प्रदूषणकारी सामग्री और जल का प्रवाह रोका जाए तथा जल संकट से जूझ रही दिल्ली को पर्याप्त जल की आपूर्ति की जाए। 

केंद्रीय बलों का घेराव करने के लिए उकसाने के आरोप में ममता के खिलाफ FIR

 

दिल्ली पुलिस के सिपाही से मारपीट के मामले में जिम मालिक के खिलाफ केस दर्ज 

दिल्ली जल बोर्ड के मुख्य अभियंता एम के हंस के माध्यम से दाखिल रिजॉइंडर हलफनामे में हरियाणा और उसके संबंधित विभाग के पूरे जवाब को ‘असमंजस में की गयी कवायद’ करार दिया। 

कोरोना कहर को लेकर मोदी सरकार में मंत्री गडकरी ने चेताया

 

 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 


 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.