Saturday, Mar 23, 2019

हरियाणा: खट्टर सरकार ने पेश किया आखिरी बजट, किसानों के लिए खोली तिजोरी

  • Updated on 2/25/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। हरियाणा की खट्टर सराकार ने आज यानी सोमवार को आखिरी बजट पेश किया है। केंद्र सरकार की तर्ज पर ही यहां भी किसानों को ही फायदा दिया गया है। बजट पेश करते हुए राज्य के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने 1 लाख 32 हजार का बजट पेश किया।

चुनावी साल को देखते हुए सरकार ने पीएम किसान सम्मान निधि की तर्ज पर किसान पेंशन योजना का ऐलान किया है।सरकार ने किसानों की पेंशन के लिए 1500 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं। बजट की शुरुआत में अभिमन्यु ने कौटिल्य के अर्थशास्त्र का उदाहरण देते हुए अपना भाषण शुरु किया।

फारूक अब्दुल्ला का बड़ा बयान, कहा- टला भारत पाक के बीच युद्ध का खतरा

उन्होंने कहा 'प्रजा सुखे सुखं राजः प्रजानां च हिते हितम्। नात्मप्रियं प्रियं राजः प्रजानां तु प्रियं प्रियम्।' इस दोहे से उनका आशय यह था कि प्रजा के सुख में सरकार का सुख है, प्रजा के हित में ही सराकार का हित है और सरकार को यही प्रिय है। 

सोमवार को वित्त मंत्री ने विधानसभा में 1,32,165.99 करोड़ का बजट पेश किया, इसमें उन्होंने कृषि विभाग को लिए 3834.33 करोड़ रुपये का प्रस्ताव किया है। जिसमें कृषि क्षेत्र के लिए 2210.51 करोड़ रुपये, पशुपालन के लिए 1026.68 करोड़ रुपये, मत्स्य पालन के लिए 73.26 करोड़ रुपये और बागवानी के लिए 523.88 करोड़ रुपये का प्रवधान है। 

UP: मुरादाबाद में लगे रॉबर्ट वाड्रा के पोस्टर, चुनाव लड़ने के लिए की अपील 

वहीं सहकारिता कि बात करें तो उसके लिए 1396.21 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है और वर्ष 2020 से लेकर 2021 तक 750 करोड़ की कुल लागत से शाहबाद चीनी मिल में 60 केएलपीडी का एथनोल प्लांट लगाने का प्रावधान किया गया है। दूसरी तरफ केंद्र सरकार के किसान सम्मान निधी की तर्ज पर किसान पेंशन और अन्य योजनाओं को लिए 1500 करोड़ रुपये का प्रस्ताव किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.