Thursday, Aug 16, 2018

हरियाणा सरकार बनाएगी शहीदों के स्मारक: धनखड़

  • Updated on 8/10/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश की रक्षा के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने वाले शहीदों की वीर गाथा को सम्मान देने के लिए विकास एवं पंचायत विभाग गांवों में अलग से शहीद स्मारक बनाएगा। हरियाणा सरकार ने हर शहीद को अमर बनाए रखने के लिए यह निर्णय लिया है। 

कृषि, विकास एवं पंचायत मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने यह जानकारी झज्जर में जिला प्रशासन की ओर से स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में मनाए जा रहे पर्व-ए-आजादी के शुभारंभ अवसर पर आयोजित कवि सम्मेलन में मुख्यातिथि के तौर पर अपने संबोधन के दौरान दी। जहांआरा बाग इंडोर स्टेडियम में कवि सम्मेलन के साथ ही झज्जर जिले में पर्व-ए-आजादी का आगाज हो गया। उपायुक्त सोनल गोयल ने कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री व कविगण का कार्यक्रम में पहुंचने पर स्वागत किया। 

केजरीवाल ने महागठबंधन को लेकर किया बड़ा ऐलान, बताई AAP की रणनीति

धनखड़ ने कहा कि आजादी की लड़ाई में अनेक ऐसे नाम रहे हैं जिन्हें देश आज तक जानता भी नहीं है। बलिदानों की परंपरा में हम महानायकों तक आकर रुक जाते हैं लेकिन अनेक नायक ऐसे भी रहे जिनकी कथाएं आज भी बाहर नहीं आईं। ऐसे शहीदों की गौरव गाथा को पब्लिक डोमेन में लाने वालों को हरियाणा सरकार की ओर से पूरी मदद दी जाएगी।

हरियाणा की सभी ग्राम पंचायतों में गौरव पट्ट लगाए जा रहे हैं जिन पर 1857 से लेकर आजादी की लड़ाई, प्रथम व द्वितीय विश्व युद्ध, 1948, 1962, 1965, 1971, कारगिल आदि लड़ाइयों, सरहद की रक्षा करते हुए या आंतरिक सुरक्षा में शहीदों के नाम लिखे जाएंगे। 

इस बार झज्जर जिले में सप्ताह भर देशभक्ति व भारतीय संस्कृति की गौरवमयी परंपरा पर आधारित कार्यक्रम आयोजित होंगे। विभागवार तैयार कार्यक्रमों की शृंखला में जनभागीदारी के लिए ग्राम सभा, पर्यावरण संरक्षण के लिए पौधागिरी, स्कूली बच्चों के लिए लोक उत्सव आदि पर्व-ए-आजादी को झज्जर जिले में बेहद खास बना देंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.