Friday, Nov 27, 2020

Live Updates: Unlock 6- Day 27

Last Updated: Thu Nov 26 2020 09:22 PM

corona virus

Total Cases

9,291,068

Recovered

8,700,681

Deaths

135,533

  • INDIA9,291,068
  • MAHARASTRA1,795,959
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA878,055
  • TAMIL NADU768,340
  • KERALA578,364
  • NEW DELHI551,262
  • UTTAR PRADESH533,355
  • WEST BENGAL526,780
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • ODISHA315,271
  • TELANGANA263,526
  • RAJASTHAN240,676
  • BIHAR230,247
  • CHHATTISGARH221,688
  • HARYANA215,021
  • ASSAM211,427
  • GUJARAT201,949
  • MADHYA PRADESH188,018
  • CHANDIGARH183,588
  • PUNJAB145,667
  • JHARKHAND104,940
  • JAMMU & KASHMIR104,715
  • UTTARAKHAND70,790
  • GOA45,389
  • PUDUCHERRY36,000
  • HIMACHAL PRADESH33,700
  • TRIPURA32,412
  • MANIPUR23,018
  • MEGHALAYA11,269
  • NAGALAND10,674
  • LADAKH7,866
  • SIKKIM4,691
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,631
  • MIZORAM3,647
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,312
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
hathras gang rape up police detained bhim army chief chandrashekhar azad up police rkdsnt

हाथरस कांड पर चंद्रशेखर बोले- भाजपा के लोगों की मानवता तो पहले ही मर चुकी थी अब वो...

  • Updated on 9/30/2020


नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद (Chandrashekhar Azad) और संगठन की दिल्ली इकाई के प्रमुख हिमांशु वाल्मीकि को उत्तर प्रदेश पुलिस ने उस वक्त हिरासत में ले लिया जब वे हाथरस सामूहिक दुष्कर्म की घटना में जान गंवाने वाली लड़की के परिजन के साथ हाथरस जा रहे थे। आजाद के सहयोगियों ने बुधवार को यह आरोप लगाया। अलीगढ़ के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने मामले से अनभिज्ञता जताई है। हालांकि चंद्रशेखर ने खुद को नजरबंद करने की बात कही है। 

अपने ट्वीट में वह लिखते, 'पूरी दुनिया ने देखा कि कैसे सरकार और पुलिस की मिलीभगत से रात में ही हमारी बहन का दाहसंस्कार परिजनों की गैरमौजूदगी और उनकी बिना मर्जी के किया गया। इन लोगों की नैतिकता मर चुकी है। मुझे इनकी पुलिस ने रात हिरासत में लिया और अब सहारनपुर लाकर मुझे नज़रबंद कर दिया गया। लेकिन हम लडेंगे।'

वहीं अपने दूसरे ट्वीट में वह लिखते हैं, 'भाजपा के लोगों की मानवता तो पहले ही मर चुकी थी अब वो देश के लोकतंत्र को भी खत्म करने पर तुले है। पुलिस ने हमारे लोगों को इंडिया गेट से हाथरस की बहन के लिए न्याय मांगने के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया है। दिल्ली के सभी साथियों की रिहाई तत्काल सुनिश्चित करें।'

पायल घोष के आरोपों को लेकर अनुराग कश्यप को मुंबई पुलिस ने किया तलब

आजाद समाज पार्टी के पदाधिकारियों के अनुसार आजाद और वाल्मीकि मंगलवार रात 10 बजे के बाद से लापता हैं और उस वक्त वे हाथरस सामूहिक बलात्कार की घटना में जान गंवाने वाली लड़की के परिजनों के साथ हाथरस जा रहे थे। लड़की की दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मंगलवार को मौत हो गई थी। 

हाथरस गैंग रेप मामले में न्याय के लिए दिल्ली महिला आयोग ने CJI बोबडे से लगाई गुहार

सामूहिक बलात्कार की शिकार लड़की और उसके परिवार को न्याय दिलाने की मांग को लेकर आजाद समाज पार्टी और दलित संगठन भीम आर्मी से जुड़े लोगों ने मंगलवार को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के बाहर प्रदर्शन किया था। आजाद समाज पार्टी की कोर समिति के सदस्य रविंद्र भाटी ने कहा, ‘‘जेवर टोल प्लाजा पर पहुंचने के बाद से आजाद और वाल्मीकि का कुछ अता-पता नहीं है।’’ 

हाथरस कांड को लेकर सीएम योगी से प्रियंका गांधी ने पूछे कुछ अहम सवाल

उन्होंने आरोप लगाया कि रात के समय आजाद तथा वाल्मीकि को हिरासत में ले लिया गया, लेकिन पुलिस इसे सार्वजनिक नहीं कर रही है। वहीं, हाथरस में सामूहिक बलात्कार की शिकार हुई लड़की के परिवार ने बुधवार को आरोप लगाया कि पुलिस ने रात में जबरन उनकी बच्ची का अंतिम संस्कार करा दिया। स्थानीय पुलिस अधिकारियों ने ‘पीटीआई- भाषा’ से कहा कि अंतिम संस्कार ‘‘परिवार की इच्छानुसार’’ किया गया। 

देश की जीडीपी नकारात्मक होने के बावजूद अंबानी-अदानी की संपत्ति में जबर्दस्त इजाफा

बुधवार दोपहर करीब 12.30 बजे आजाद समाज पार्टी और भीम आर्मी के कार्यकर्ता अलीगढ़ के टप्पल पुलिस थाने पर पहुंचे और उन्होंने प्रदर्शन किया। भाटी ने टप्पल पुलिस थाना परिसर के अंदर प्रदर्शनकारियों से कहा, ‘‘आजाद और वाल्मीकि का पता लगाने के लिए हमारे प्रतिनिधियों का एक दल पुलिस और प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात करेगा।’’ 

हाथरस सामूहिक बलात्कार पीड़िता के परिवार को दिल्ली पुलिस ने उठाया, बैठे थे धरने पर

इस संबंध में पूछे जाने पर अलीगढ़ के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘मुझे इस दावे(हिरासत) के बारे में कोई जानकारी नहीं है।’’ इस संबंध में जिला पुलिस प्रमुख और कुछ अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से संपर्क नहीं हो सका क्योंकि पुलिस अधिकारियों ने बताया कि वे कोरोना वायरस की चपेट में आ गए हैं और पिछले तीन-चार दिन से उनका उपचार चल रहा है।
 

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.