Thursday, Feb 25, 2021
-->
hathras rape case protest at jantar mantar prashant bhushan said gundaraj in up rkdsnt

हाथरस घटना के खिलाफ जंतर मंतर पर प्रदर्शन, प्रशांत भूषण बोले- यूपी में गुंडाराज

  • Updated on 10/2/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। हाथरस सामूहिक बलात्कार पीड़िता के लिये न्याय की मांग करने को लेकर नागरिक समाज के कार्यकर्ता, छात्र और महिलाएं शुक्रवार को यहां जंतर मंतर पर जुटे।  यह प्रदर्शन शुरूआत में इंडिया गेट पर होना था, लेकिन राजपथ क्षेत्र में निषेधाज्ञा के कारण यह जंतर मंतर पर किया गया। 

राहुल गांधी बोले - हाथरस कांड का सच छिपाने के लिए दरिंदगी पर उतरी योगी सरकार

वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण (Prashant Bhushan) ने कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश में जो कुछ हो रहा है वह गुंडाराज है। पुलिस ने गांव को घेर रखा है, वहां विपक्षी नेताओं और मीडियाकर्मियों को नहीं घुसने दिया जा रहा। उन्होंने (पुलिस-प्रशासन) ने पीड़िता के परिवार के सदस्यों के मोबाइल फोन ले लिये हैं। ’’ उन्होंने परिवार की इच्छा के विरूद्ध पीड़िता के शव का दाह संस्कार किये जाने के तरीके की भी निंदा की।  

हाथरस कांड में पुलिस अधिकारियों के खिलाफ योगी सरकार ने की कार्रवाई

सामूहिक बलात्कार के करीब पखवाड़े भर बाद 19 वर्षीय पीड़िता की मंगलवार सुबह दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई थी। बुधवार तड़के उत्तर प्रदेश के हाथरस में उसका दाह-संस्कार कर दिया गया। पीड़िता के परिवार के सदस्यों का आरोप है कि स्थानीय पुलिस ने रातोंरात जबरन दाह-संस्कार करने के लिये उन्हें मजबूर किया। हालांकि, स्थानीय पुलिस अधिकारियों ने कहा है कि दाह-संस्कार परिवार की सहमति से किया गया। 

दिल्ली मेट्रो के प्रवेश-निकास द्वार बंद किए गए
हाथरस सामूहिक बलात्कार और हत्या के विरोध में हो रहे प्रदर्शनों के मद्देनजर शुक्रवार को दिल्ली मेट्रो के कुछ स्टेशनों के प्रवेश और निकास दरवाजों को बंद रखा गया। सिविल सोसायटी के कार्यकर्ताओं, छात्रों, महिलाओं और विभिन्न राजनीतिक दलों के सदस्य दलित युवती के लिए न्याय की मांग करने जंतर मंतर पर एकत्र हुए थे। 

असम में प्रश्न पत्र लीक होने के चलते रद्द पुलिस भर्ती परीक्षा की नई तारीख का ऐलान

अधिकारियों ने बताया, ‘‘जनपथ (मेट्रो स्टेशन) का प्रवेश और निकास द्वार बंद रहा। इस स्टेशन पर ट्रेनें भी नहीं रूकेंगी। राजीव चौक और पटेल चौक मेट्रो स्टेशन के निकास द्वार भी बंद रहे।’’ ये तीनों स्टेशन मध्य दिल्ली में प्रदर्शन स्थल के आसपास हैं। पहले यह प्रदर्शन इंडिया गेट पर होना था लेकिन राजपथ क्षेत्र में लागू निषेधाज्ञा के कारण यह आयोजन जंतर मंतर पर हुआ। 

हाथरस घटना को लेकर गुस्सा बरकरार, लखनऊ, अलीगढ़ के बाद दिल्ली में प्रदर्शन, केजरीवाल भी शामिल

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.