Wednesday, Oct 20, 2021
-->
hc-notice-to-center-and-delhi-govt-in-oxygen-crisis-case-in-jaipur-golden-hospital-kmbsnt

ऑक्सीजन की कमी से मौत मामले में CBI जांच की मांग, केंद्र और दिल्ली सरकार को HC का नोटिस

  • Updated on 6/5/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली के एक निजी अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से मौत के आरोप में सीबीआई से जांच कराने की मांग पर हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार और राज्य सरकार को नोटिस जारी किया है। इसका जवाब देने के लिए 20 अगस्त तक का समय दिया गया है।

जयपुर गोल्डन अस्पताल में 23-24 अप्रैल की रात 21 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई थी। 8 मृतकों के परिजनों की ओर से घटना की सीबीआई जांच कराने के लिए याचिका दाखिल की गई है। याचिका में कहा गया है कि मरीजों की मौत ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति न होने के कारण दम घुटने से हुई ना कि पहले से अन्य बीमारियों से पीड़ित होने के कारण जैसा कि कमेटी की एक रिपोर्ट में कहा गया है।

कोरोना के कारण भारत में फंसे विदेशियों के वीजा की अवधि बढ़ाई गई 

दिल्ली सरकार की विशेषज्ञ कमेटी की रिपोर्ट पर उठा सवाल 
याचिका में दिल्ली सरकार द्वारा गठित विशेषज्ञ कमेटी की उस रिपोर्ट पर भी सवाल उठाया है जिसमें कहा गया है कि मरीजों की मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई।

न्यायधीश रेखा पल्ली ने केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय और दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग को हलफनामा दाखिल कर जवाब देने को कहा है। साथ ही इस मामले में जयपुर गोल्डन अस्पताल को भी पक्ष रखने के लिए कहा गया है। मामले की अगली सुनवाई 20 अगस्त को होगी और इससे पहले दोनों सरकारों जवाब देने को कहा गया है। 

कोविड-19 से संक्रमित पाए जाने की फर्जी रिपोर्ट पर सख्ति, दिल्ली उच्च न्यायालय ने दिए जांच के आदेश

ऑक्सीजन की कमी से मरने वालों के परिवार को 5 लाख का मुआवजा 
बता दें कि दिल्ली सरकार ने ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों का पता लगाने के लिए एक कमेटी गठित की है। इस समिति में चिकित्सा विशेषज्ञ हैं। यह समिति हफ्ते में एक बार बैठक करेगी और हर मामले पर गौर करेगी और यह फैसला करेगी कि क्या जीवनरक्षक गैस की कमी के कारण मौत हुई। जैसे ही उपराज्यपाल फाइल को मंजूर करते हैं तभी यह समिति काम करना शुरू कर देगी।'  जिन लोगों की मौत भी ऑक्सीजन की कमी से हुई होगी उनके परिवार को 5 लाख की मुआवजा राशि दिल्ली सरकार की ओर से दिए जाने का ऐलान किया गया है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.