Sunday, Apr 18, 2021
-->
health minister dr harsh vardhan said that the country will soon get many more vaccines sohsnt

स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा- देश को जल्द मिलेगी कई और वैक्सीन की सौगात

  • Updated on 2/16/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटिल। भारत में कोरोना महामारी (Coronavirus) के खिलाफ वैक्सीनेशन अभियान लगातार जारी है। यहां पहले चरण में हेल्थ वर्कर समेत फ्रंट वरियर्स को कोरोना टीका लगने के बाद मार्च से 50 साल से ज्यादा आयु के बुजुर्गों का भी टीकाकरण शुरू हो जाएगा। देश में अब तक 80 से 85 लाख लोगों को टीकाकरण किया जा चुका है। यह जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Harsh Vardhan) ने दी।

कोरोना की चपेट में गुजरात CM विजय रूपाणी, कल चुनाव रैली में हुए थे बेहोश

50 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए वैक्सीनेशन
हर्षवर्धन ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में सोमवार को कहा कि अगले दो से तीन हफ्तों में 50 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए कोविड-19 टीकाकरण शुरू किया जाएगा। इसकी तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 टीकों को लेकर 18-20 कंपनियां प्रयासरत हैं। इनमें से कुछ प्रीक्लीनिकल, क्लीनिकल और कुछ एडवांस स्टेज के परीक्षण में हैं। 

स्वदेशी वैक्सीन को लेकर बोले डॉ हर्षवर्धन- आत्मनिर्भर भारत को बढ़ावा देने की पहल

देश के 188 जिलों में कोविड-19 नया केस नहीं
उन्होंने कहा कि भारत 20 से 25 देशों को टीकों की आपूर्ति करेगा। हर्षवर्धन ने टीकों से संबंधित अफवाहों को खारिज करते हुए कहा कि सार्जनिक टीके सुरक्षित और प्रभावी हैं। उन्होंने कहा कि पिछले सात दिनों में देश के 188 जिलों में कोविड-19 का कोई नया मामला सामने नहीं आया है। जबकि 21 जिलों में 21 दिनों से कोई भी नया मामला सामने नहीं आया है।

Corona Vaccine: मार्च से 50 वर्ष से अधिक आयु वालों को लगेगा कोविड वैक्सीन

डॉ हर्षवर्धन ने कही ये बा
हर्षवर्धन ने आगे कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि कोविड संबंधी उचित व्यवहार का पालन करते रहें, जिसे मैं वास्तविक टीकों के साथ सामाजिक टीका कहता हूं। भारत ने देश में आपातकालीन उपयोग के लिए भारत बायोटेक और ऑक्सफोर्ड एस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित टीकों को मंजूरी दी है। हर्षवर्धन ने बताया कि 1, 09,16,589 लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं। इनमें से 1,06, 21,220 लोग ठीक हुए हैं। उन्होंने बताया कि देश में कोरोना का 97.29 फीसद रिकवरी रेट है। उन्होंने कहा कि सभी के लिए स्वास्थ्य सेवा का सपना केवल भारत में ही साकार हो सकता है।

मार्च से शुरू हो सकता है अगले चरण का टीकारण
गैरतलब है कि पहले चरण में सरकारी और निजी क्लीनिकों के लगभग एक करोड़ स्वास्थ्य कर्मचारियों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया था, जो तेजी से पूरा हो रहा है। दूसरा चरण, में दो करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका लगाना लक्ष्य है। ये पहले से ही कई राज्यों में 2 फरवरी से शुरू हो चुका है। वहीं दो चरणों को पूरा करने के बाद तीसरे चरण के मार्च में किसी भी समय शुरू होने की उम्मीद है। इस चरण में, 50 वर्ष से अधिक आयु के प्रत्येक नागरिक को टीका लगाया जाएगा। मार्च के किसी भी सप्ताह में इसकी प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.