Monday, Jan 24, 2022
-->
health-workers-in-blo-duty-vaccination-affected-on-health-units

बीएलओ ड्यूटी में स्वास्थ्यकर्मी, स्वास्थ्य इकाइयों पर प्रभावित हुआ वैक्सीनेशन

  • Updated on 11/6/2021

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। जिले में पहले ही वैक्सीनेशन की रफ्तार धीमी है, इसके बाद स्वास्थ्य कर्मियों को बीएलओ ड्यूटी में लगाए जाने से वैक्सीनेशन का काम और ज्यादा प्रभावित हो रहा है। जिसके चलते करीब 11 स्वास्थ्य इकाइयों द्वारा टीका नहीं लगाया जा रहा है। ऐसे में लोगों को टीकाकरण के लिए जिला संयुक्त अस्पताल व अन्य बड़ेे केंद्रों पर पहुंच कर टीका लगवाना पड़ रहा है। 
कोरोना से बचाव को लेकर टीकाकरण का कार्य जारी है। 18 से अधिक आयु वालों को टीके लगाए जा रहे हंै। अब तक जिले में 23 लाख लोगों को पहली डोज और 10 लाख को दोनों डोज लगाई जा चुकी हैं। स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि अब एक से डेढ़ माह में लक्षित 27 लाख की आबादी को पहला टीका लगा दिया जाएगा। ऐसे में अब केवल करीब 4 लाख लोग ही शेष है। इस बीच टीकाकरण को लेकर लोगों में उत्साह कम दिखाई दे रहा है। लोग अब कम संख्या में टीका लगवाने पहुंच रहे हंै। बीते माह की अपेक्षा अक्तूबर माह में भी टीकाकरण कम हुआ है। नवम्बर माह में भी यही स्थिति चल रही है।

वहीं, अब स्वास्थ्य कर्मियों को निर्वाचन कार्य संबंधी बीएलओ ड्यूटी में लगा दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग की मानें तो जिले में भोजपुर, मुरादनगर, कार्टेज चोक समेत करीब 11 स्वास्थ्य इकाइयों के कर्मचारियों की बीएलओ ड्यूटी लगी है। ये स्वास्थ्य कर्मी पीएचसी पर मौजूद थे। इन स्वास्थ्य इकाइयों के कर्मचारियों को अन्य टीकाकरण केंद्रों पर भी भेजा जाता था। अब बीएलओ ड्यूटी लगने से करीब 20 से 25 टीकाकरण केंद्रों की संख्या में कमी आई है।

बीते तीन दिन से त्योहार के चलते भी जिले में 15 से 20 केंद्रों पर ही टीकाकरण हो पा रहा है। हालांकि शनिवार को टीकाकरण केंद्रों की संख्या में कुछ वृद्धि की गई है। वैक्सीनेशन कार्य के डिप्टी नोडल अधिकारी डॉ. जेपी मथुरिया का कहना है कि स्वास्थ्य कर्मियों को बीएलओ ड्यूटी में न भेजने को लेकर प्रशासन से पत्र के माध्यम से मांग की जा चुकी है, जिससे टीकाकरण का कार्य अधिक प्रभावित न हो। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.