Sunday, Dec 04, 2022
-->
hearing on petition seeking cancellation of bail of union minister of state for home teni

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री टेनी की जमानत रद्द करने की मांग वाली याचिका पर 6 सितंबर को सुनवाई

  • Updated on 9/3/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ ने लखीमपुर में हुए प्रभात हत्याकांड में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा उर्फ टेनी की जमानत रद्द करने की मांग वाली याचिका पर छह सितंबर को सुनवाई करने का शुक्रवार को निर्देश दिया। यह आदेश न्यायमूर्ति रमेश सिन्हा व न्यायमूर्ति रेनू अग्रवाल की खंडपीठ ने दिया है।

बेटी को अवैध तरीके से ठेका देने के लिए सक्सेना को बर्खास्त करें प्रधानमंत्री : AAP 

उक्त जमानत निरस्ती प्रार्थना पत्र में कहा गया है कि अजय मिश्रा उर्फ टेनी की दोषमुक्ति के खिलाफ दाखिल राज्य सरकार की अपील की सुनवाई में उनकी ओर से सहयोग नहीं किया जा रहा है, लिहाजा उनके बॉन्ड को निरस्त किया जाए।       शुक्रवार को मामला सुनवाई के लिए आने पर न्यायालय ने पाया कि सरकार की अपील पर सुनवाई के लिए पहले ही छह सितम्बर की तिथि नियत है लिहाजा न्यायालय ने उक्त प्रार्थना पत्र को भी छह सितम्बर को अपील के साथ ही पेश करने का आदेश दिया है।     

मुरुघा मठ के मुख्य पुजारी नाबालिग लड़कियों के यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार

उल्लेखनीय है कि लखीमपुर खीरी के तिकुनिया थाना क्षेत्र में वर्ष 2000 में एक युवक प्रभात गुप्ता की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में अन्य अभियुक्तों के साथ-साथ अजय मिश्रा उर्फ टेनी भी नामजद थे। मामले के विचारण के पश्चात लखीमपुर खीरी की एक सत्र अदालत ने अजय मिश्रा व अन्य को पर्याप्त साक्ष्यों के अभाव में वर्ष 2004 में बरी कर दिया था। आदेश के खिलाफ वर्ष 2004 में ही राज्य सरकार ने उच्च न्यायालय में अपील दाखिल कर दी थी।  

‘भारत जोड़ो यात्रा’ में राहुल गांधी के साथ चलेंगे खेड़ा, कन्हैया समेत 117 ‘भारत यात्री’

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.