Friday, Dec 09, 2022
-->
heavy-snow-at-badrinath

बदरीनाथ और मलारी हाईवे पर जमी बर्फ हटाई, वाहनों की आवाजाही शुरू

  • Updated on 12/20/2019

गोपेश्वर/टीम डिजिटल। बर्फबारी से बाधित बदरीनाथ हाईवे को सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) ने माणा तक सुचारु कर दिया है। वहीं, नीती घाटी को बाहरी दुनिया से जोड़ने वाले मलारी राष्ट्रीय राजमार्ग पर भी मलारी गांव तक वाहनों का आना जाना शुरू हो गया है। हालांकि जोशीमठ- औली सड़क वीरवार देर शाम तक सुचारु नहीं हो पाई थी।

चमोली जिले में बीते सप्ताह बर्फबारी से बदरीनाथ और मलारी हाईवे के साथ ही दो दर्जन सड़कें बाधित हो गई थीं। इसके बाद यहां बीआरओ ने 175 मजदूरों, 16 जेसीबी और डोजरों की मदद से एक सप्ताह में बदरीनाथ हाईवे को माणा गांव तथा मलारी हाईवे को मलारी गांव तक वाहनों की आवाजाही के लिए सुचारु कर दिया है। वहीं, लोनिवि जोशीमठ-औली मोटर मार्ग से बर्फ हटाने में लगा हुआ है।

अधिकारियों की मानें, तो शुक्रवार तक जोशीमठ-औली सड़क पर आवागमन शुरू हो जाएगा। ऊर्जा निगम ने भी जोशीमठ नगर और आसपास के क्षेत्रों में विद्युत आपूर्ति शुरू करवा दी है। ब्लॉक के अधिकतर गांवों में विद्युत आपूर्ति बहाल करने के लिए विभागीय अधिकारी और कर्मचारी लाइनों को सुधारने में जुटे हुए हैं।

जमी बर्फ को हटाकर बदरीनाथ हाईवे को माण गांव और मलारी गांव तक मलारी हाईवे को सुचारु कर दिया गया है। हाईवे पर पर जमी बर्फ हटाने के लिए 175 मजदूरों और 16 मशीनें तैनात की गई हैं ताकि आगामी दिनों में बर्फबारी होने पर हाईवे को सुचारु रखा जा सके।
एएस राठौर, चीफ इंजीनियर, बीआरओ।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.