Tuesday, Oct 19, 2021
-->
hema-malini-epfo-eps-nac-mathura-sobhnt

हेमा मालिनी ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर की मांग, EPS पेशनधारियों की राशि बढ़ाकर करें 7500

  • Updated on 7/6/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। लोकसभा सदस्य हेमा मालिनी ने कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) की कर्मचारी पेंशन योजना (EPS) में मासिक पेंशन की न्यूनतम राशि बढ़ाकर कम से  कम 7,500 रुपये करने और अन्य सुविधाओं के लिये 65 लाख से अधिक पेशनधारकों को ‘न्याय दिलाने’ की मांग को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है।     

लद्दाख में सेना के पीछे हटने की चीन ने की पुष्टि, कहा- तनाव कम करने को उठाए ये कदम 

न्यून्तन पेंशन को बढ़ाने की हुई मांग
उल्लेखनीय है कि ईपीएस, 95 के अंतर्गत आने वाले पेंशनधारक इस योजना में न्यूनतम पेंशन बढ़ाकर 7,500 रुपये करने के साथ साथ महंगाई राहत तथा मेडिकल सुविधा प्रदान करने की लंबे समय से मांग कर रहे हैं। इससे पहले, चार मार्च, 2020 को हेमा मालिनी ईपीएस,95 के पेशनधारियों की राष्ट्रीय संघर्ष समिति (NAC) के प्रतिनिधिमंडल के साथ प्रधानमंत्री से मिली थीं।      

NSA अजित डोभाल ने चीनी विदेश मंत्री से की बात और LAC पर पीछे हट गई सेना

जितेन्द्र सिंह ने कार्यवाही की कही बात
मथुरा से सांसद हेमा मालिनी ने दो जुलाई को लिखे पत्र में पिछली बैठक का जिक्र करते हुए कहा है कि ईपीएस,95 पेंशनधारकों की जायज मांगों को सुनने के बाद आपने प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री डा. जितेन्द्र सिंह को इस संदर्भ में उपयुक्त कार्यवाही के निर्देश दिये थे। उसके बाद राज्यमंत्री जी ने संबंधित अधिकारियों के साथ इन प्रतिनिधियों की बैठक की और उनकी मांगों को पूरा करने के लिये योजना तैयार की।     

BJP नेता संबित पात्रा ने डोनेट किया प्लाज्मा, देशवासियों से की ये खास अपील

शीघ्र न्याय की उम्मीद की
सांसद ने कहा कि मै समझ सकती हूं कि कोविड-19 महामारी के कारण निर्णय में देरी हो रही है लेकिन इन पेंशनभोगियों की उम्र और उनकी मृत्युदर को देखते हुए अनुरोध किया जाता है कि इन पेंशनधारकों को मासिक पेंशन के रूप में 7,500 रुपये के साथ महंगाई भत्ता मंजूर कर और चिकित्सा सुविधा प्रदान कर उन्हें न्याय देने की कृपा करें। इस बारे में राष्ट्रीय संघर्ष समिति के अध्यक्ष कमांडर अशोक राऊत ने एक बयान में कहा कि ईपीएस,95 पेंशन धारकों द्वारा 30-35 वर्ष तक सेवा के दौरान शासन के नियमानुसार पेंशन फण्ड में पेंशन राशि कटवाने के बावजूद सेवानिवृत्ति के बाद नाममात्र 200 रुपये से लेकर 3,000 रुपये तक पेंशन मिलती है। उन्होंने उम्मीद जतायी कि प्रधानमंत्री से 65 लाख पेंशनधारकों को शीघ्र न्याय मिलेगा जिससे 559 दिनों से जारी बुलढाणा अनशन समाप्त होगा और पेंशनधारकों के परिवार के जीवन में खुशहाली आएगी।     



 

यहां पढ़ें भारत-चीन विवाद से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.