Wednesday, Oct 16, 2019
hero motocorp two wheeler sector bring voluntary retirement scheme vrs for its employees

मंदी की मार: हीरोमोटोकॉर्प लाई कर्मचारियों के लिए VRS प्लान

  • Updated on 9/16/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दोपहिया वाहनों के क्षेत्र में बाजार की अग्रणी कंपनी हीरो मोटोकॉर्प ने सोमवार को कहा कि उसने अपने कर्मचारियों के लिए एक स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (वीआरएस) शुरू की है, जिसका उद्देश्य उत्पादकता और दक्षता में सुधार लाना है। यह स्कीम- 28 सितंबर तक मान्य होगी। यह 40 वर्ष या उससे अधिक आयु के कर्मचारियों के लिए है और जिन्होंने हीरो मोटोकॉर्प में निरंतर काम करते हुये न्यूनतम पांच साल की सेवा पूरी की है। 

INX मीडिया मामला : ED ने चिदंबरम के पूर्व पीएस को फिर किया तलब

वीआरएस के तहत दिए गए मुआवजे के पैकेज में कंपनी की सेवा में कर्मचारी द्वारा बिताये गये काम के वर्षों की संख्या और सेवानिवृत्ति से पहले उसके शेष बचे साल के आधार पर गणना के आधार पर एकमुश्त राशि का भुगतान किया जायेगा। कंपनी में सेवानिवृति आयु 58 वर्ष है। 

केजरीवाल बोले- AAP सरकार की योजनाओं के चलते नहीं चुभ रही है आर्थिक मंदी

एकमुश्त राशि के अलावा, पैकेज में अतिरिक्त उपहार, हीरो उत्पादों पर छूट, चिकित्सा लाभ, परिवर्तनशील वेतन, कंपनी द्वारा दी गई कारों और लैपटॉप पर छूट, कर्मचारियों के बच्चों के लिए हीरो में कैरियर के अवसर, पुनर्वास सहायता और कंपनी के साथ भविष्य में व्यापार के अवसर और अन्य सामान्य लाभ शामिल हैं। 

बंगला खाली नहीं करने वाले पूर्व सांसदों की क्लास लगाएगा नया कानून

 हीरो मोटोकॉर्प के प्रवक्ता से संपर्क करने पर उन्होंने कहा कि कर्मचारियों के लिये यह सेवानिवृति योजना को पूरी सहानुभूति और कल्याण की भावना के साथ तैयार किया गया है। इसमें वीआरएस लेने वालों के लिये कई तरह के लाभ शामिल किये गये हैं।  

अनुच्छेद 370 पर जम्मूकश्मीर पीपुल्स कांफ्रेस की याचिका पर विचार को तैयार सुप्रीम कोर्ट 

कंपनी ने ऐसे समय में वीआरएस तैयार की है जब आटो उद्योग अभूतपूर्व मंदी के दौर से गुजर रहा है। दो दशकों में पहली बार अगस्त में यात्री वाहनों और दुपहिया वाहनों सहित सभी क्षेत्रों में गिरावट के साथ कुल ऑटोमोबाइल बिक्री में सबसे खराब गिरावट देखी गई है। बाजार के सुस्त पडऩे के साथ, विनिर्माताओं को उत्पादन में कटौती और कुछ मामलों में कार्यबल में कमी करने जैसे कठोर कदम उठाने को मजबूर होना पड़ा है। 

PSA के तहत गिरफ्तार अब्दुल्ला के लिए उनका घर ही बना जेल

comments

.
.
.
.
.