Thursday, Oct 28, 2021
-->
high alert in haridwar after the chamoli tragedy review of the preparation of kumbh kmbsnt

चमौली त्रासदी के बाद हरिद्वार में हाई अलर्ट, कुंभ की तैयारी का प्रशासन ने लिया जायजा

  • Updated on 2/7/2021

देहरादून/हरिद्वार। चमोली (Chamoli)जिले की नीति घाटी के तपोवन क्षेत्र में ग्लेशियर (glacier) फटने से धौली गंगा का जल स्तर बढ़ा। लेकिन अब नदी का जलस्तर तेजी से नीचे जाने से राज्य सरकार ने राहत की सांस ली है। उधर चमौली में ग्लेशियर के पिघलने से पुलिस प्रशासन हरिद्वार में भी हाई अलर्ट हो गई है। इस बाबत सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के निर्देश पर हरिद्वार के एसएसपी,सिटी मजिस्ट्रेट,सिंचाई विभाग भीमगोडा बैराज पर गंगा के जलस्तर का जायजा लिया। दरअसल हरिद्वार को लेकर सरकार बहुत ही संवेदनशील है। जहां कुंभ का आयोजन किया जा रहा है। 

वहीं इससे पहले तपोवन क्षेत्र से अब तक 10 लोगों के शव बरामद हुए है।  जबकि तपोवन टनल से 16 लोगों को सुरक्षित निकालने में कामयाबी मिली है। आईटीबीपी के जवानों ने फंसे हुए लोगों को निकाला है। जानकारी मिलते ही जिला प्रशासन ने जिले के नदी तट के इलाकों में अलर्ट किया जारी। पुलिस प्रशासन की ओर से नदी तट क्षेत्र के इलाकों को खाली करवाया जा रहा है। 

 

Live Updates:

  • उत्तराखंड के चमोली के तपोवन इलाके में एनटीपीसी स्थल पर तीन शव बरामद हुए हैं
  • उत्तराखंड के चमोली के तपोवन क्षेत्र के रेनी गांव में सेना के चार कॉलम, दो मेडिकल टीम और एक इंजीनियरिंग टास्क फोर्स की तैनाती की गई है: भारतीय सेना
  • यह एक तरह की त्रासदी है जो बेहद चौंकाने वाली है। यह एक प्राकृतिक आपदा है। गृह मंत्री ने आश्वासन दिया है कि उत्तराखंड सरकार को हर मदद दी जाएगी: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण।
  • भारतीय सेना के 600 जवान बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों की ओर बढ़ रहे हैं
  • चमोली जिले में बाढ़ की आशंका में 100-150 लोग हताहत
  • उत्तराखण्ड के चमोली जनपद में विष्णु प्रयाग बांध टूटने से भारी आपदा के कष्टदायक समाचार प्राप्त हो रहें हैं, ईश्वर से प्रार्थना करता हूं क्षेत्र के आसपास के लोगों की रक्षा करें, समस्त कार्यकर्ता एवं किसान साथियों आप आपदा के क्षेत्र में राहत का कार्य करें- BKU नेता राकेश टिकैत
  • उत्तराखंड में दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति की लगातार निगरानी कर रहे हैं। भारत उत्तराखंड के साथ खड़ा है और वहां सभी की सुरक्षा के लिए राष्ट्र प्रार्थना करता है। लगातार वरिष्ठ अधिकारियों से बात कर रहे हैं और एनडीआरएफ की तैनाती, बचाव कार्य और राहत कार्यों में अपडेट प्राप्त कर रहे हैं: पीएम नरेंद्र मोदी
  • बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बचाव कार्यों में मदद के लिए देहरादून और आस-पास के क्षेत्रों में वायुसेना के दो एमआई -17 और एक एएलएच ध्रुव हेलिकॉप्टर सहित तीन हेलिकॉप्टर। जमीन पर आवश्यकता के अनुसार अधिक विमान तैनात किए जाएंगे: भारतीय वायुसेना के अधिकारी
  • असम में रहते हुए, पीएम नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड की स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत और अन्य शीर्ष अधिकारियों से बात की। उन्होंने बचाव और राहत कार्य का जायजा लिया। अधिकारी प्रभावितों को हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए काम कर रहे हैं: प्रधानमंत्री कार्यालय 
  • यदि आप प्रभावित क्षेत्रों में फंसे हुए हैं और आपको किसी सहायता की आवश्यकता है। आपदा परिचालन केंद्र संख्या 1070 या 9557444486 पर संपर्क करें: उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत
  • ITBP की दो टीमें मौके पर पहुंचीं, NDRF की तीन टीमों को देहरादून से रवाना किया गया और 3 अतिरिक्त टीमें शाम तक IAF हेलिकॉप्टर की मदद से वहाँ पहुँचेंगी। SDRF और स्थानीय प्रशासन पहले से ही मौके पर: धौलीगंगा में बड़े पैमाने पर बाढ़ को लेकर गृह मंत्री नित्यानंद राय
  • चमोली में निचले इलाके खाली कराए गए। आ
  • NDRF की 10 टीमें राहत बचाव कार्य में जुटी।
  • हरिद्वार ऋषिकेश और श्रीनगर में अलर्ट जारी।
  • अलकनंदा के पास के इलाकों से लोगों को निकाला जा रहा है। एहतियात के तौर पर भागीरथी नदी के प्रवाह को रोक दिया गया है। अलकनंदा के पानी के प्रवाह को रोकने के लिए श्रीनगर बांध और ऋषिकेश बांध को खाली कर दिया गया है। एसडीआरएफ अलर्ट पर है। मैं मौके के लिए रवाना हो रहा हूं: उत्तराखंड के सी.एम.
  • जनपद चमोली में अलकनंदा ग्लेशिर फटने की सूचना है, पानी का बहाव तेज़ी से बढ़ेगा। सभी फायर स्टेशन/ थाने, विशेष रूप से श्रीनगर,  जोशीमठ, गोपेश्वर, कीर्तिनगर, देवप्रयाग, ऋषिकेश, मुनि की रेती अलर्ट पर रहें, समस्त राफ्टिंग कैंसिल। फायर, थाना sdrf को अलर्ट।
  • तपोवन क्षेत्र में एक ग्लेशियर के टूटने से ऋषिगंगा पावर प्रोजेक्ट क्षतिग्रस्त हो गया है। अलकनंदा नदी के किनारे रहने वाले लोगों को जल्द से जल्द सुरक्षित स्थानों पर जाने की सलाह दी जाती है: चमोली पुलिस, उत्तराखंड

जिला आपदा प्रबंध अधिकारी नन्द किशोर जोशी ने बताया कि नीति घाटी में धौली गंगा नदी का जल स्तर बढ़ गया है। हालांकि अभी नदी के जल स्तर के बढ़ने के कारण अभी स्पष्ट नहीं हो सके हैं। सूचना मिलते ही प्रशासन की ओर से अलर्ट जारी कर दिया गया है। जिला प्रशासन की टीम मौके के लिए रवाना हो गयी है। अपुष्ट सूचना के अनुसार कुछ लोगों के बहाने की सूचना मिली है।

कुंभ को लेकर केन्द्र की एस.ओ.पी. ने बढ़ाया राज्य सरकार का सिरदर्द, संख्या पर असमंजस

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा सरकार जरूरी कदम उठा रही
वहीं इस सूचना के मिलते ही उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ऐक्शन में आ गए हैं। इसके साथ ही उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लिखा है कि चमोली जिले से एक आपदा का समाचार मिला है। ज़िला प्रशासन, पुलिस विभाग और आपदा प्रबंधन को इस आपदा से निपटने की आदेश दे दिए हैं। किसी भी प्रकार की अफंवाहों पर ध्यान ना दें । सरकार सभी ज़रूरी कदम उठा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.