Thursday, Apr 15, 2021
-->
high court questions on amanatullah being made waqf board chairman kmbsnt

अमानतुल्लाह को वक्फ बोर्ड का अध्यक्ष बनाने के विचार पर हाईकोर्ट ने उठाया सवाल

  • Updated on 10/20/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) ने सोमवार को दिल्ली सरकार (Delhi Govt) से कहा है कि वह विधायक अमानतुल्लाह खान (Amanatullah Khan) को वक्फ बोर्ड (Waqf Board) का अध्यक्ष बनाने की अनुमति कैसे दे सकती है? जबकि उनके खिलाफ अनियमितताओं के आरोपों की जांच के लिए सोशल ऑडिट शुरू किया गया है।

न्यायमूर्ति हीमा कोहली और न्यायमूर्ति सुब्रमण्यम प्रसाद की पीठ ने एक याचिका पर सुनवाई के दौरान दिल्ली सरकार से यह प्रश्न किया। याचिका में उस अधिसूचना को रद्द करने का अनुरोध किया गया है जिसमें अमानतुल्लाह समेत वक्फ बोर्ड के सदस्यों में से बोर्ड का अध्यक्ष चुनने के लिए सोमवार को उनकी बैठक बुलाई गई।

दिल्ली दंगा: पुलिस ने लगाए 8 लड़कों के गैंग पर आरोप- भीड़ के साथ चलते हुए की आगजनी-चोरी

गंभीर आरोपों का सामना कर रहे व्यक्ति को अध्यक्ष को बनाया जाए?
अदालत ने कहा मुद्दा यह है कि क्या अनियमितताओं के गंभीर आरोपों का सामना कर रहे व्यक्ति को बोर्ड का अध्यक्ष बनाने की अनुमति दी जानी चाहिए, जबकि दिल्ली सरकार ने उनके खिलाफ आरोपों में सोशल ऑडिट का आदेश दिया है। अदालत ने यह भी कहा है कि उन्हें व्यवस्था का हिस्सा ही क्यों बनने देना चाहिए? जब उनके खिलाफ गंभीर आरोप हैं।

याचिकाकर्ता मोहम्मद इकबाल खान द्वारा वकील विजय किंगर के माध्यम से दाखिल जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए  कोर्ट ने यह बात कही। 

दिल्ली: 'रेड लाइट ऑन गाड़ी ऑफ' अभियान को सफल बनाने सड़कों पर उतरे AAP नेता

याचिका में उठाए गए विषय पर विचार करने की जरूरत- कोर्ट
दिल्ली सरकार की ओर से अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल संजय जैन ने कहा कि बोर्ड का स्पेशल ऑडिट से कोई लेना देना नहीं है और इसके परिणाम सीधे सरकार को बताए जाएंगे। तब पीठ ने पूछा कि क्या खान अध्यक्ष पद के लिए दावेदारी करना चाहते हैं। खान की ओर से वकील केसी मित्तल ने पीठ से कहा कि अगर कोई सदस्य उनके नाम का प्रस्ताव रखता है तो वह लड़ेंगे।

दिल्ली पुलिसकर्मियों की आत्महत्या से जुड़े मामलों पर चौंकाने वाली RTI रिपोर्ट आई सामने

अध्यक्ष चुनाव के लिए बोर्ड की बैठक 19 नवंबर तक स्थगित
अदालत ने कहा कि याचिका में उठाए गए विषय पर विचार करने की जरूरत है और समय की कमी के कारण सोमवार को यह संभव नहीं है। अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल संजय जैन ने कहा कि अध्यक्ष के चुनाव के लिए बोर्ड की बैठक 19 नवंबर तक स्थगित की जाएगी। तब पीठ ने अगली सुनवाई के लिए 9 नवंबर की तारीख तय की।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.