Thursday, Apr 02, 2020
high court reprimanded for the absence of ed lawyer in  dk shivkumar case

शिवकुमार मामले में ED के वकील की गैर मौजूदगी पर हाई कोर्ट ने लगाई फटकार

  • Updated on 10/17/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली उच्च न्यायालय ने कर्नाटक कांग्रेस के नेता डी. के. शिवकुमार की जमानत याचिका पर जिरह के लिए प्रवर्तन निदेशालय के वकील की गैर मौजूदगी को लेकर बृहस्पतिवार को एजेंसी को फटकार लगाई और कहा कि एजेंसी अदालत के साथ ‘‘लुका-छुपी’’ का खेल नहीं खेल सकती। शिवकुमार को धनशोधन के मामले में गिरफ्तार किया गया है।

श्रीनगर में दुकानें खुलीं, अब्दुल्ला और मुफ्ती अभी भी नजरबंद

न्यायमूर्ति सुरेश कैत ने मामले में पेश हुए ईडी के वकील को फटकार लगाई। वकील ने इस आधार पर अदालत से 30 मिनट का वक्त मांगा कि मामले में जिरह करने वाले कानून अधिकारी राउज एवेन्यू जिला अदालत में व्यस्त हैं। 

रघुराम राजन ने अर्थव्यवस्था में मंदी को लेकर मोदी सरकार पर बोला हमला

न्यायमूर्ति कैत ने कहा, ‘‘आप अदालत के साथ लुका-छुपी का खेल नहीं खेल सकते। यह स्वीकार्य नहीं है। अदालत को इंतजार नहीं कराया जाना चाहिए।’’ उच्च न्यायालय ने शिवकुमार की जमानत याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया और ईडी के वकील से कहा कि 19 अक्टूबर की दोपहर 12 बजे तक अपना लिखित हलफनामा दायर करें। 

शरद पवार बोले- वाजपेयी भद्र पुरूष थे, लेकिन मोदी....

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.