Saturday, Feb 29, 2020
hima-gets-a-place-in-the-world-championship-team-as-relay-runner

हिमा दास को रिले धाविका के रूप में विश्व चैंपियनशिप टीम में जगह मिली

  • Updated on 9/10/2019

नई दिल्ली/टीम डिडिटल। विश्व जूनियर चैंपियन हिमा दास को सोमवार को विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप के लिए चार गुणा 400 मीटर रिले धाविका के रूप में भारत की 25 सदस्यीय टीम में जगह मिली। विश्व चैंपियनशिप का आयोजन दोहा में 27 सितंबर से किया जाएगा।

हिमा अपनी पसंदीदा 400 मीटर स्पर्धा के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाई लेकिन उन्हें महिला चार गुणा 400 मीटर रिले और मिश्रित चार गुणा 400 मीटर रिले के लिए शामिल किया गया है। भारतीय एथलेटिक्स महासंघ की चयन समिति ने कोहनी के आपरेशन के बाद रिहैबिलिटेशन से गुजर रहे भाला फेंक के स्टार खिलाड़ी नीरज चोपड़ा के नाम पर चर्चा की लेकिन उन्हें टीम में शामिल नहीं किया गया।

एएफआई ने प्रेस विज्ञप्ति में कहा, ‘चयनकर्ताओं ने कोहनी की चोट के बाद रिहैबिलिटेशन प्रक्रिया से गुजर रहे भाला फेंक के खिलाड़ी नीरज चोपड़ा के मामले में बाद में चर्चा करने का फैसला किया।’ सूत्रों का हालांकि कहना है कि सर्जरी से पहले विश्व चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई करने वाले नीरज इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता से लगभग बाहर हो गए हैं।

टीम इस प्रकार है:
पुरुष: 
जबीर एमपी (400 मीटर बाधा दौड़), जिनसन जानसन (1500 मीटर), अविनाश साब्ले (3000 मीटर स्टीपलचेज), केटी इरफान और देवेंदर सिंह (20 किमी पैदल चाल), गोपी टी (मैराथन), श्रीशंकर (लंबी कूद), तेजिंदर पाल सिंह तूर (गोला फेंक), शिवपाल सिंह (भाला फेंक), मोहम्मद अनस, निर्मल नोह टोम, एलेक्स एंटनी, अमोज जैकब, केएस जीवन, धारुन अय्यासामी और हर्ष कुमार (चार गुणा 400 मीटर पुरुष और मिश्रित रिले)

महिला: पीयू चित्रा (1500 मीटर), अनु रानी (भाला फेंक), हिमा दास, विस्मया वीके, पूवम्मा एमआर, जिस्ना मैथ्यू, रेवती वी, शुभा वेंकटेशन, विद्या आर (चार गुणा 400 मीटर महिला और मिश्रित रिले)।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.