himachal-will-be-constituted-to-set-up-a-clean-up-staff-commission-what-will-be-full-news

हिमाचल में होगा सफाई कर्मचारी आयोग का गठन, क्या रहेगा खास पढ़िए पूरी खबर

  • Updated on 6/14/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। हिमाचल (Himachal) में जल्द सफाई कर्मचारी आयोग का गठन होगा। आयोग के राष्ट्रीय (National) अध्यक्ष मनहर वालजी भाई जाला ने वीरवार को सचिवालय में आयोजित पत्रकार वार्ता (Press confrenss) में यह बात कही। उन्होंने कहा कि  राज्य सरकार को इस संदर्भ में आदेश जारी किए गए हैं और मुख्य सचिव ने स्पष्ट किया है कि जल्द ही इस दिशा प्रभावी कदम उठाए जाएंगे। आयोग के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनहर वालजी भाई जाला ने कहा कि देश के 14 राज्यों में आयोग का गठन किया जा चुका है और जल्द ही शेष राज्य में भी इसका गठन किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि राज्यों में आयोग का गठन होने से सफाई कर्मचारियों (Workers) की समस्याओं का समय पर निपटारा होगा। उन्होंने कहा कि तीन दिवसीय दौरे (Tour) के तहत आयोग को सफाई कर्मचारियों के वेतन, आवास व अन्य सुविधाएं संबंधी शिकायतें मिली हैं। ऐसे में उनको सरकार के समक्ष रखा गया है और कहा गया है कि वह आयोग के एक्ट के अनुसार सफाई कर्मचारियों को सुविधाएं प्रदान करें तथा यह भी मॉनीटीरिंग करे कि एक्ट के नियमों को पालन हो रहा है या नहीं।

Image result for हिमाचल में होगा सफाई कर्मचारी आयोग का गठन,

उन्होंने कहा कि यदि कहीं नियमों की अवेहलना होती है तो उसका कड़ा संज्ञान लिया जाएगा। मनहर भाई झाला ने कहा कि आयोग को देशभर में 2500 शिकायतें मिली हैं, जिनमें से 2 हजार का निपटारा कर दिया है। उन्होंने कहा कि आयोग ने इस दौरान सफाई कर्मचारियों की समस्याओं को भी सुना है और उनका निपटारा करने के लिए सरकार को उचित कदम उठाने के आदेश दिए हैं। वीरवार को आयोग के राज्य के मुख्य सचिव सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की है और विभिन्न मसलों को लेकर जल्द उचित कदम उठाने को कहा है। उन्होंने कहा कि शिमला में सफाई कर्मचारियोंके लिए स्वास्थ्य जागरूकता शिविर का भी आयोजन किया गया।

जाति प्रमाण पत्र लेने में आ रहीं दिक्कतें 
राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि आयोग के समक्ष आया है कि पंजाब, हरियाणा सहित अन्य बाहरी राज्य के लोग जो कई सालों से हिमाचल में कार्य रहे हैं, उन्हें जाति प्रमाण पत्र लेने में दिक्कतें आ रही हैं। ऐसे में सरकार को इस दिशा में प्रभावी कदम उठाने को कहा गया है ताकि सरकार की योजनाओं का उन्हें भी फायदा मिल सके।

यह भी दिए आदेश

  • राज्य में सफाई संबंधी उपकरण व मशीनों को बढ़ाया जाए
  • सफाई कर्मचारियों के शिमला में अधिकतर आवास अनाधिकृत हैं। ऐसे में सरकार उन्हें नियमित करने पर इस दिशा में प्रभावी पग उठाए।
  • श्रम एक्ट के अनुसार वेतन व अन्य सुविधाएं मिले
  • सफाई कर्मचारियों को हैल्थ चैकअप साल में 2 बार किया जाए।
  • सफाई कर्मचारियों के स्वीकृत 1365 पदों में से 743 भरे हुए हैं। ऐसे में स्वीकृत पदों को सरकार जल्द भरे।
  • बी.पी.एल में पात्र होने के लिए 36 हजार की राशि का दायरा बढ़ाया जाए ताकि सफाई कर्मियों को इसका लाभ मिले।
  • शहरी क्षेत्रों में एरिया के आधार पर सफाई कर्मचारियों के पदों की संख्या को बढ़ाया जाए।
  • स्कूलों में सफाई व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए प्रत्येक स्कूल में एक सफाई कर्मचारी की तैनाती की जाए। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.