Monday, Jun 27, 2022
-->
hundreds-of-students-had-arrived-to-give-paper-created-a-ruckus-when-the-college-stopped

पेपर देने पहुंचे थे सैकड़ों विद्यार्थी, कॉलेज के रोकने पर किया हंगामा

  • Updated on 5/26/2022

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। प्रथम पाली में पेपर छूटने पर छात्रों ने एमएमएच डिग्री कॉलेज में हंगामा किया। छात्रों ने मांग करते हुए कहा कि उन्हें दूसरी शिफ्ट में पेपर दिए जाने की अनुमति दी जाए। जिस पर कॉलेज प्रबंधन ने इंकार कर दिया। हंगामा बढ़ता देख कॉलेज प्रबंधन ने पुलिस को सूचना दी, सूचना पर पहुंची पुलिस ने छात्रों को किसी तरह समझाया। बाद में कॉलेज प्रबंधन ने छात्रों को आश्वासन दिया कि यूनिवर्सिटी को अवगत करा दिया गया है, यूनिवर्सिटी ने इस संबंध में कोई निर्णय लिए जाने को कहा है। जिसके बाद विद्यार्थी शांत हुए। 

चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी मेरठ द्वारा बीए के पेपर आयोजित करा रहा है। वीरवार को भी बीए सेकेंड ईयर का दोनों पालियों में जनरल अवेयरनेस का पेपर था। एमएमएच डिग्री कॉलेज में प्रथम पाली में सुबह 7 से 10 बजे तक प्राइवेट वाले करीब 2000 छात्रों को पेपर देना था। लेकिन, इसमें से 530 छात्र-छात्राएं पेपर देने नहीं पहुंचे। जिसके बाद वह दूसरी पाली में पेपर देने के लिए पहुंचे।

उन्होंनेें कॉलेज प्रबंधन को बताया कि यूनिवर्सिटी द्वारा जारी डेट शीट में पेपर को लेकर स्पष्ट होने पर वह प्रथम पाली में पेपर नहीं दे सकें। अब वह दूसरी पाली में रेग्युलर छात्रों साथ पेपर देना चाहते है। जिस पर कॉलेज प्रबंधन ने यूनिवर्सिटी स्तर से ही पेपर दोबारा देने की अनुमति देने की बात कही। इससे गुस्साए छात्रों ने कॉलेज परिसर में जमकर हंगामा काटा और वहीं धरने पर बैठ गए। हंगामा बढऩे पर प्रबंधन ने पुलिस को सूचना दे दी।

पुलिस ने भी छात्रों को समझाने की कोशिश की, लेकिन छात्र पेपर देने की मांग पर अड़े रहे। हालांकि, बाद में छात्रों को समझाने के बाद वह शांत हुए वापस घर को लौटे। कॉलेज प्राचार्य डॉ पीयूष चौहान ने बताया कि छात्रों की समस्या से यूनिवर्सिटी को अवगत कराया गया था, उन्होंने परीक्षा समिति की बैठक बुलाकर केवल छूटे हुए छात्रों की जून माह में दोबारा परीक्षा कराने का निर्णय लिए जाने को कहा है। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.