Thursday, Apr 09, 2020
ias officer rajiv bansal appointed chairman and managing director of air india

IAS अधिकारी राजीव बंसल बने Air India के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक

  • Updated on 2/17/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। वरिष्ठ आईएएस (IAS) अधिकारी राजीव बंसल (Rajiv Bansal) ने एअर इंडिया (Air India) के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर के पद का कार्यभार संभाला लिया है। बंसल 1988 बैच के नागालैंड काडर के भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) के अधिकारी हैं। 

सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बाद वोडाफोन-आइडिया AGR बकाया चुकाने के लिए तैयार 

एअर इंडिया के अंतरिम सीएमडी का पदभार संभाल चुके हैं बंसल
बंसल इससे पहले पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव के तौर पर कार्य कर चुके हैं। मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने बीते दिनों एअर इंडिया के अध्यक्ष के तौर पर उनको नियुक्त किया। इससे पहले बंसल ने साल 2017 में तीन माह के लिए एअर इंडिया के अंतरिम सीएमडी (CMD) के रूप में पदभार संभाला था।

भारत यात्रा पर अमरीकी विशेषज्ञों की नजरें, व्यापारिक हित साधने की कोशिश होगी

बंसल ने विमानन कंपनी के खर्चों को कम करने की योजना बनाई 
उनसे पहले इस पद पर लोहानी थे जिनका कार्यकाल साल 2017 में पुरा हो गया था। बंसल का कार्यकाल देखते हुए ही उन्हें इस पद पर न्यूक्त किया गया है। उनके कार्यकाल में ही एअर इंडिया ने कोपेनहेगन सहित दुनिया के कई अन्य शहरों में अपनी उड़ानें शुरू की थी। उन्होंने कई अहम बदलाव करते हुए विमानन कंपनी के खर्चों को कम करने का काम किया था।

#SBI को सता रहा है दूरसंचार कंपनी के दिवालिया होने का डर

कर्ज के जाल में लगातार फंसती जा रही है एअर इंडिया
मोदी सरकार के लगातार प्रयास के बाद भी एअर इंडिया को घाटे से उबारा नहीं जा सका है। ऐसे में सरकार एअर इंडिया की 100 फीसदी हिस्सेदारी बेचने का प्लान बना चुकी है। सरकार ने इसे लेकर निविदा आमंत्रित की है जिसकी अंतिम तारीख 17 मार्च है। मोदी सरकार के इस प्लान को लेकर विरोधी पार्टियां लगातार सरकार को घेर रही हैं। 

बजट के बाद वित्त मंत्री का बड़ा बयान, कहा- किसानों की आय दोगुना करना सरकार का लक्ष्य

पाकिस्तान द्वारा एअरस्पेस बंद करने से भी हुआ नुकसान 
एअर इंडिया को हो रहे नुकसान का एक कारण ये भी है कि बालाकोट स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने अपने एअरस्पेस को बंद कर दिया था। जिसके चलते एयर इंडिया के साथ निजी एयरलाइंस स्पाइसजेट को 30.73 करोड़ रुपये, इंडिगो को 25.1 करोड़ रुपये और गो-एयर को 2.1 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। 

RBI गवर्नर ने जताई अर्थव्यवस्था सुधरने की उम्मीद, कहा- ज्यादा लोगों को मिल रहा है लोन

साल 2018-19 में एअर इंडिया को 8,556 करोड़ रुपए का घाटा
देश की सबसे पुरानी एविएशन कंपनी एअर इंडिया लगातार मुश्किल के दौर में फसती जा रही है। एअर इंडिया पर हजारों करोड़ रुपए का कर्ज केंद्र सरकार की परेशानी बना हुआ है। इसमें विमानों की खरीद और कार्यशील पूंजी हेतु दिए  गए दीर्घकालिन कर्ज भी शामिल है। दरअसल, वित्त वर्ष 2018-19 में एअर इंडिया को 8, 556 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था।  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.