Friday, Nov 16, 2018

ICICI बैंक लोन विवाद: 6 कंपनियों को लेकर एक्टिव है कॉरपोरेट मंत्रालय

  • Updated on 6/13/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय ने ICICI बैंक विवाद से जुड़ी कंपनी न्यूपावर रीन्यूएबल्स और 5 अन्य कंपनियों की जांच शुरू की है। केंद्रीय मंत्री पीपी चौधरी ने आज यह जानकारी दी।  चौधरी ने कहा कि मंत्रालय ने आईसीआईसीआई बैंक विवाद से जुड़ी 6 कंपनियों के खिलाफ कंपनी अधिनियम 2013 की धारा 206(5) के तहत 23 अप्रैल को जांच के आदेश दिए। 

अमेरिका, मेक्सिको, कनाडा करेंगे 2026 फुटबाल वर्ल्ड कप की मेजबानी

उन्होंने कहा कि न्यूपावर रीन्यूएबल्स प्राइवेट लिमिटेड समेत 6 कंपनियों के खिलाफ जांच चल रही है। कॉरपोरेट मामलों के राज्यमंत्री ने कहा कि मंत्रालय के क्षेत्रीय निदेशक (पश्चिमी क्षेत्र) जांच कर रहे हैं।  बता दें कि ICICI बैंक विवाद में बैंक की प्रबंध निदेशक व मुख्य कार्यकारी अधिकारी चंदा कोचर और उनके परिवार के मेंबरों की कथित संलिप्तता की जांच की जा रही है। 

शाहरुख की रिश्तेदार पाकिस्तान में लड़ेंगी चुनाव, मिली हरी झंडी

इस केस को आरबीआई और सीबीआई जैसी एजेंसियां भी देख रही हैं। यह मामला बैंक की ओर से 2010 में वीडियोकान ग्रुप को  3,250 करोड़ रुपये के कर्ज और उसके पुनर्गठन में चंदाकोचर परिवार के लोगों के जुड़े होने के आरोपों से संबंधित है।

राहुल गांधी ने आडवाणी को लेकर पीएम मोदी पर कसा तंज, देखें Video

हांगकांग रेगुलेटर की पीएनबी शाखा पर नजर 

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने कहा है कि हांगकांग मौद्रिक प्राधिकरण (एचकेएमए) ने बैंक की पूंजी की स्थिति को देखते हुए उसकी हांगकांग शाखा की निगरानी बढ़ा दी और कहा कि वह ग्राहकों से अपने यहां धन जमा आर्किषत करने की सक्रियता न दिखाए।

PNB घोटाला: नीरव मोदी को लेकर इंटरपोल ने किए चौंकाने वाले खुलासे

पीएनबी ने शेयर बाजार को बताया, '31 मार्च 2018 को बैंक की पूंजी हालात को ध्यान में रखते हुए एचकेएमए ने हमारी हांग कांग शाखा की निगरानी व्यवस्था में वृद्धि की है। हमारे पास अपना पूंजी का स्तर भारतीय रिजर्व बैंक के नियामकीय निर्देशों के हिसाब से कम है। 

BJP ने पूछा- अखिलेश यादव ने बंगले की दीवार के पीछे क्या छिपाया था?

घोटाले की मार झेल रहे बैंक ने कहा कि पीएनबी की हांगकांग शाखा को  हांग कांग में उच्च गुणवत्ता तरल परिसंपत्तियां रखने की आवश्यकता है, जो कि बिना बंधक वाली 100 प्रतिशत जमा के बराबर हैं। पीएनबी ने यह भी कहा निगरानी व्यवस्था के तहत उसकी हांगकांग शाखा ग्राहकों से धन जमा करने के लिए अपनी ओर से प्रोत्साहित नहीं कर सकती है। हालांकि वाणिज्यिक कर्ज के लिए बिना बंधक जमा हासिल करने जैसे कारोबार पर रोक नहीं है।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.