Wednesday, Jan 26, 2022
-->
if-aap-government-formed-in-up-increase-education-budget-by-25-percent-manish-sisodia-rkdsnt

यूपी में AAP की सरकार बनी तो शिक्षा का बजट बढ़ाकर 25 फीसदी करेंगे - सिसोदिया 

  • Updated on 9/30/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया ने बृहस्पतिवार को कहा कि यदि उत्तर प्रदेश में उनकी पार्टी की सरकार बनी तो पहले ही वर्ष शिक्षा का बजट बढ़ाकर 25 प्रतिशत किया जाएगा। यहां सर्किट हाउस में एक संवाददाता सम्मेलन में सिसोदिया ने कहा कि वर्ष 2016-17 में उत्तर प्रदेश का शिक्षा बजट 17 प्रतिशत के करीब था जिसे योगी सरकार लगातार घटा रही है और आज इसे 13 प्रतिशत पर ले आयी है। 

मोदी सरकार ने लगाया महंगाई में तड़का, प्राकृतिक गैस के दाम 62 फीसदी बढ़ाए

उन्होंने कहा , ‘‘आज प्रदेश में सवा लाख शिक्षा मित्र धक्के खा रहे हैं। महिला शिक्षकों ने तो सिर मुड़ाकर योगी सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। पांच साल पहले 60 प्रतिशत बच्चे सरकारी स्कूलों और 40 प्रतिशत बच्चे निजी स्कूलों में पढ़ते थे, लेकिन आज यह अनुपात उल्टा हो गया है। आज 60 प्रतिशत बच्चे निजी स्कूलों में पढ़ रहे हैं।’’ उप मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकारी स्कूलों में शिक्षा का बंटाधार हो रहा है तथा निजी स्कूलों में पढ़ाई महंगी होने के बावजूद लोग अपने बच्चों को निजी स्कूलों में पढ़ाने को मजबूर हैं। 

महिला आयोग ने महिला ऑफिसर का ‘टू-फिंगर टेस्ट’ कराने पर वायुसेना प्रमुख को लिखा पत्र 

उन्होंने कहा कि अभी तक धर्म और जाति के नाम पर वोट मांगने पार्टियां आती थीं लेकिन पहली बार एक पार्टी यहां आई है जो कहती है कि आप हमें वोट दो हम आपके बच्चों को शानदार शिक्षा देंगे। सिसोदिया ने कहा कि आम आदमी पार्टी सिर्फ कह नहीं रही, बल्कि दिल्ली में इसे करके दिखाया है। सिसोदिया ने कहा, ‘‘ आज आलोचना करने वाली दलों के लोग भी कह रहे हैं कि सच में शिक्षा के क्षेत्र में दिल्ली में कमाल हो गया। दिल्ली में पिछले सात साल में स्कूलों की ढांचागत सुविधाएं, निजी स्कूलों से बेहतर दिख रही हैं और सरकारी स्कूलों के नतीजे, निजी स्कूलों से बेहतर आ रहे हैं।’’  

कांग्रेस जल्द जारी करेगी यूपी विधानसभा चुनाव लिए उम्मीदवारों की पहली लिस्ट

उन्होंने कहा, ‘‘ उत्तर प्रदेश स्कूल और कालेजों की मूलभूत जरूरतें पूरी नहीं हो रही हैं। पूरे प्रदेश में सरकारी स्कूल खंडहर पड़े हैं। कई ऐसे स्कूल हैं जहां पशुओं को बांधा जाता है। स्कूलों में शौचालय नहीं हैं और जो हैं भी वे टूटे फूटे पड़े हैं। प्रदेश के कई जिलों की महिला शिक्षकों ने सरकार से शौचालय ठीक कराने की सरकार से मांग की है।’’ 


 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.