Friday, Jul 30, 2021
-->
if govt not fulfill farmers demand movement will spread all over the country gopal rai kmbsnt

सरकार जिद पर आती है तो किसान आंदोलन पूरे देश में फैलेगा- गोपाल राय

  • Updated on 2/17/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। नए कृषि कानूनों (New Farm Laws) के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का प्रदर्शन दो माह से भी अधिक समय से लगातार जारी है। वहीं विपक्षी दलों का किसानों को संपूर्ण समर्थन मिल रहा है। इसी क्रम में दिल्ली के पर्यवारण मंत्री गोपाल राय (Gopal Rai) ने कहा है कि किसान आंदोलन से देश का किसान जुड़ा है। सरकार जिस तरह से जिद्द पर अड़ी है। इसे लेकर पूरे देश के किसान चिंतित और दुखी हैं कि इतने लंबे आंदोलन के बाद भी सरकार उनकी बात को सुनने को तैयार नहीं है। सरकार जिद्द पर आती है, तो आंदोलन पूरे देश में फैलेगा। 

किसान 18 फरवरी यानी कल रेल रोको अभियान (Rail Roko Campaign) चलाने वाले हैं। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि रेल केवल स्टेशनों पर ही रोकी जाएगी, बीच रास्ते में किसी भी रेल को रोका नहीं जाएगा। 18 फरवरी को दोपहर 12 बजे से शाम 4 बजे तक रेल रोको अभियान चलेगा। 

किसान आंदोलन: सिंधु बॉर्डर पर प्रदर्शनकारी ने किया SHO पर जानलेवा हमला

रेल रोको अभियान में यात्रियों को कराया जाएगा नाश्ता
राकेश टिकैत ने बताया कि किसान इंजन पर फूल चढ़ाकर रेल रोकेंगे और 3-4 घंटे के लिए जब तक रेल रुकेगी उस दौरान रेल में बैठे यात्रियों को किसानों द्वारा चाय नाश्ता करवाया जाएगा। वहीं रेल में बैठे यात्रियों को देश में बढ़ रही महगांई के बारे में भी बताया जाएगा। इसके साथ ही किसान जिन समस्याओं का सामना कर रहे हैं उनसे भी यात्रियों को अवगत करवाया जाएगा। 

होलिका दहन भी करेंगे किसान
बता दें कि किसानों ने कल यानी मंगलवार को प्रदर्शनस्थल पर बसंत पंचमी का त्योहार भी मानाया। किसानों का कहना है कि बसंत पंचमी से होली की शुरुआत हो जाती है। आज से 40 दिन बाद यहीं पर होलिका दहन भी किया जाएगा। किसान खेम सिंह का कहना है कि हम लोग सब्र करके यहां बैठे हुए हैं और हमें उम्मीद है कि सरकार हमारी बात सुनेगी। अगर 40 दिन तक यह धरना ऐसे ही चलता रहता है तो यहीं पर होलिका दहन करेंगे यह पर बुराई पर अच्छाई की विजय का प्रतीक है। हमेशा अच्छाई की जीत होती है।

संयुक्त किसान मोर्चा ने हरियाणा के मंत्री जेपी दलाल, अनिल विज के खिलाफ खोला मोर्चा 

धरना स्थल पर मनाई गई सर छोटूराम की जयंती
वहीं धरना स्थल पर सर छोटूराम की जयंती मनाई गई। उनकी तस्वीरों पर किसानों ने फूल चढ़ाकर उन्हें याद किया और धरना स्थल पर मार्च निकाला। संयुक्त किसान मोर्चा समिति के नेता जगतार सिंह बाजवा ने कहा कि किसानों और मजदूरों के हितों को लेकर सर छोटूराम ने अंग्रेजों से हमेशा संघर्ष किया। उस समय हम गुलाम थे, आज की सरकार भी हमें गुलाम समझ रही है। जैसा कहेंगे वैसा बोएंगे। सरकार को किसानों पर विश्वास नहीं, आंदोलनकारी उनके लिए देशद्रोही हैं। 

ये भी पढ़ें:

 

comments

.
.
.
.
.