Monday, May 16, 2022
-->
If preparation is good, no one can stop you from passing: Smriti Irani

तैयारी अच्छी हो, तो उतीर्ण होने से कोई नहीं रोक सकता:स्मृति ईरानी

  • Updated on 9/8/2021

 

नई दिल्ली /टीम डिजिटल। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि तैयारी अच्छी हो, तो उतीर्ण होने से कोई नहीं रोक सकता। उन्होंने कहा कि भाजपा ने सत्ता को सेवा का माध्यम बनाया है, इसलिए लोक कल्याण की नीतियों पर लगातार कार्य हो रहा है। उन्होंने महिला सशक्तिकरण पर जोर देते हुए कहा कि पार्टी महिला मोर्चा कार्यकारिणी में शामिल महिलाएं 30 हजार निष्ठावान कार्यकर्ता के बराबर है। प्रदेश महिला मोर्चा कार्यकारिणी की बैठक में उन्होंने यह विचार रखे।
स्मृति ईरानी ने कहा कि कार्यकारिणी में बैठी महिलाओं में शौर्य और संवेदना दिखाई देती है। यहां बैठी यह हर एक महिला 10 निष्ठावान कार्यकर्ता को जोड़ती है तो 3 लाख महिलाएं जुटाने की ताकत रखती है। उन्होंने कहा कि भारत सरकार के हर एक मंत्रालय में महिलाओं के उत्थान से संबंधित कोई न कोई योजना चल रही है।
ईरानी ने कहा कि इसरो जैसे क्षेत्र में भी महिलाओं ने जबरदस्त प्रदर्शन किया। टैक्सटाइल के क्षेत्र से लगभग 70 प्रतिशत महिलाएं जुड़ी हुई हैं। बैठक में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता,  राष्ट्रीय महामंत्री दुष्यंत गौतम,  संगठन महामंत्री सिद्धार्थन व मोर्चा प्रमुख योगिता सिंह आदि मौजूद थे।

स्मृति ईरानी की मौजूदगी में भगवा दल में शामिल हुए प्रीतम सिंह,कहा- चुनाव में बीजेपी की होगी जीत


ईरानी ने प्रशिक्षण पर बल देते हुए कहा कि रास्ते आसान नहीं है, लेकिन तैयारी अच्छी हो तो उतीर्ण होने से कोई नहीं रोक सकता। उन्होंने प्रोफेशनल महिलाओं को पार्टी से जोडऩे पर जोर दिया। साथ ही कहा कि महिलाओं को अध्ययन और नए सदस्यों को अधिक से अधिक जोडऩे पर ध्यान देना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार की योजनाओं के बारे में भी बैठक में जानकारी साझा की।

स्मृति ईरानी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शौचालय बनवाए, जिससे ग्रामीण इलाकों में करीब 45 फीसदी से अधिक महिलाओं के साथ होने वाले दुष्कर्म की घटना पर रोक लगी।

अधिकारियों से बोले मंत्री जी, केवल मीटिंग ना करें, धरातल पर काम भी देखें


 प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि दिल्ली में हमारी पहली चुनौती निगम चुनाव है। इसके लिए 50 प्रतिशत सीटें महिलाओं के लिए आरक्षित है और महिला मोर्चा को इस चुनौती को सफलतापूर्वक निभाना होगा ताकि निगम चुनावों में भाजपा को विजय मिल सके।
राष्ट्रीय महामंत्री दुष्यंत गौतम ने कहा कि राजनीतिक दल के तौर पर वोट बैंक की चिंता करना गलत नहीं है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक दल के कार्यकर्ता होने के नाते हमें वोट बैंक की चिंता करनी चाहिए और उसे बढ़ाने के लिए सभी स्तरों पर ठोस प्रयास होना चाहिए। उन्होंने कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों की नीतियों को देश एवं समाज विरोधी करार देते हुए कहा कि संकट के समय भी सरकार से सहयोग करने के बजाए इन दलों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जनहित की सभी नीतियों को गलत ठहराते हुए जन विरोध किया।
उन्होंने कहा कि जिस दल के साथ वोट बैंक नहीं, उसका क्या हाल होगा यह कांग्रेस की वर्तमान स्थिति से स्पष्ट है। उन्होंने कहा कि समाज में छिपे जयचंदों का भी पदार्फाश करना है जिनके कारण देश और समाज का विकास अवरुद्ध होता है।

राजनीतिक प्रस्ताव भी हुआ पारित 

महिला मोर्चा की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में राजनीतिक प्रस्ताव पारित किया गया। कहा केजरीवाल सरकार दिल्ली की जनता को मुफ्त बिजली-पानी के भ्रमजाल में फंसाकर वास्तव में उनसे जमकर पैसे वसूल रही है। बिजली के फिक्स्ड चाजज़् के नाम पर जनता को लूटा जा रहा है। प्रस्ताव में केजरीवाल सरकार को महिला विरोधी बताया। आरोप लगाया गया कि डेंगू से लडऩे का काम एमसीडी करती है, निशुल्क वैक्सीनेशन, गरीबों को मुफ़्त राशन, मज़दूरों को मासिक पेंशन, व्यपारियों को राहत जैसे कार्य केंद्र सरकार करती हैं लेकिन दिल्ली सरकार इन कार्यो का झूठा श्रेय बटोर लेती हैं। आरोप लगाया कि केवल पंजाब से आने वाले किसानों के लिए आप चिंतित हैं क्योंकि पंजाब में चुनाव हैं और दिल्ली के किसान को किसान न मानकर एक अलग मापदंड अपनाती है।

कोरोना में सरकारी अस्पतालों की दशा, नशाखोरी का दिल्ली में बढ़ते चलन, प्रदूषण कम करने के लिए ई-वाहन योजना पर ज़मीनी स्तर पर कोई कार्य न होने, दिल्ली सरकार द्वारा विधवाओं, दिव्यांगों व बुजुगोज़्ं की पेंशन बंद कर देने सहित विभिन्न मामलों में सरकार से माफी की मांग की गई है।  राजनीतिक प्रस्ताव मोर्चा महामंत्री टीना शर्मा ने प्रस्तुत किया और मोर्चा उपाध्यक्ष  अरुणा रावत ने उसका अनुमोदन किया।

comments

.
.
.
.
.