Wednesday, Dec 08, 2021
-->
if-you-don-t-improve-the-third-wave-will-come-soon

नहीं सुधरे तो जल्द आएगी तीसरी लहर

  • Updated on 9/21/2021

नई दिल्ली। टीम डिजिटल। कोरोना की दूसरी लहर ने पूरे देश को संकट की घडी का एहसास करवाया। शायद ही कोई ऐसा होगा जिसके परिवार या दोस्त में से किसी को कोरोना रूपी काल ने ग्रास ना बना लिया हो। फिर भी दिल्ली के लोग इतने बेफ्रिकरे हो गए हैं कि वो दूसरी लहर को भूलकर तीसरी लहर लाने की पर्याप्त तैयारियां कर रहे हैं। अगर आपको विश्वास ना हो तो चांदनी चौक जाकर देखें जहां खुलेआम कोविड नियमों का उल्लंधन किया जा रहा है।
एनडीएमसी ने दिखाया सेवा और समर्पण 

नहीं होती परांठे वाली गली में पैर रखने की भी जगह, नजर आते हैं सिर्फ सिर
मालूम हो कि भारत के लोग खाने के बेहद शौकीन हैं लेकिन अब स्ट्रीट फूड खाने के साथ ही कोरोना गाइडलाइंस का पालन करना भी बेहद जरूरी है। जिसके बारे में सरकार व दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट आर्थोरिटी लगातार समझा रही है। एक्सपर्ट भी कह रहे हैं कि दिल्ली में अक्तूबर-नवंबर में कोरोना की तीसरी लहर आ सकती है। बावजूद इसके चांदनी चौक में मशहूर परांठे वाली गली में अगर 10 बजे के बाद आप जाते हैं तो आपको पैर रखने की भी जगह नहीं मिलेगी। सोशल डिस्टेंस वहां हवा-हवाई है। यहां चलाई जा रहीं खाने-पीने की दुकानों पर सेनेटाइजर नजर नहीं आता। हाल यह है कि अंदर खाना बना रहे कारीगर मास्क नहीं लगाते। वहीं खाने के शौकीन भी इतने बेसब्रे हैं कि धक्का-मुक्की सहते हुए खाना-खाने में लगे हुए हैं। इस गली में धूसते ही आपको सिर्फ सिर ही सिर नजर आता है। यदि हाल यही रहा तो एक्सपर्ट द्वारा बताए जा रहे समय से पहले कोरोना की तीसरी लहर दिल्ली में दस्तक दे सकती है।
चरखा चलाकर एएसआई देगा गांधी जी को श्रद्धांजलि

नहीं दिखते सिविल वालंटियर्स व पुलिस
खुलेआम कोरोना नियमों का उल्लंधन यहां किया जा रहा है लेकिन हाल यह है कि दूर-दूर तक कहीं भी सिविल वालंटियर्स यहां दिखाई नहीं देते। इक्का-दुक्का पुलिसवाले यदि दिख भी जाते हैं तो उनमें कोरोना गाइडलाइंस का पालन करवाने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखती।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.