Wednesday, Nov 25, 2020

Live Updates: Unlock 6- Day 25

Last Updated: Wed Nov 25 2020 08:10 AM

corona virus

Total Cases

9,221,998

Recovered

8,641,404

Deaths

134,743

  • INDIA9,221,998
  • MAHARASTRA1,784,361
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA871,342
  • TAMIL NADU768,340
  • KERALA557,442
  • NEW DELHI534,317
  • UTTAR PRADESH528,833
  • WEST BENGAL526,780
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • ODISHA315,271
  • TELANGANA263,526
  • RAJASTHAN240,676
  • BIHAR230,247
  • CHHATTISGARH221,688
  • HARYANA215,021
  • ASSAM211,427
  • GUJARAT194,402
  • MADHYA PRADESH188,018
  • CHANDIGARH183,588
  • PUNJAB145,667
  • JHARKHAND104,940
  • JAMMU & KASHMIR104,715
  • UTTARAKHAND70,790
  • GOA45,389
  • PUDUCHERRY36,000
  • HIMACHAL PRADESH33,700
  • TRIPURA32,412
  • MANIPUR23,018
  • MEGHALAYA11,269
  • NAGALAND10,674
  • LADAKH7,866
  • SIKKIM4,691
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,631
  • MIZORAM3,647
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,312
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
IGNU End Term Exam 2019 Examination Centers changed due to violent protest in Jamia delhi

जामिया के हिंसक प्रदर्शन के चलते बदले गए IGNU परीक्षा केंद्र

  • Updated on 12/16/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। नागरिकता कानून (CAA) के विरोध में जामिया (Jamia) में हुए उग्र प्रदर्शन के चलते इंदिरा गांधी ओपन नेशनल यूनिवर्सिटी (IGNU) ने परीक्षा केंद्रों में बदलाव कर दिया है। इस साल दिंसबर में होने वाले इग्नू के एंड टर्म एग्जाम के लिए परीक्षा केंद्रों में बदलाव किए गए हैं। 

जिन परीक्षार्थियों का सेंटर जामिया विश्वविद्यालय में पड़ा था उनके लिए नए परीक्षा केंद्र अलॉट किए गए हैं। अब परीक्षार्थियों को नए परीक्षा केंद्रों में जाकर परीक्षा देनी होगी। बता दें कि जामिया विश्वविद्यालय के छात्र रविवार को प्रदर्शन के बाद जंतर मंतर जाने की तैयारी कर रहे थे, लेकिन फ्रेंड्स कॉलोनी इलाके में दिल्ली पुलिस ने उन्हें रोक लिया। इस बात पर प्रदर्शनकारी छात्र उग्र हो गए और नोएडा से आ रही एक डीटीसी बस में आग लगा दी।

उसके बाद छात्रों और पुलिस के बीच हिंसक झड़प शुरू हो गई। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस टीम पर पथराव शुरू कर दी। उसके बाद पुलिस ने छात्रों पर जमकर लाठी चलाई व आंसू गैस फेंके। इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने देखते ही देखते डीटीसी व कलस्टर की तीन बसों में आग लगा दी। इसके साथ कई गाड़ियों में तोडफ़ोड़ की। यही नहीं, कई बाइकों में भी आग लगाई। तब पुलिस ने इलाके में धारा 144 लागू कर छात्रों पर काबू पाने के लिए जमकर लाठी चलाए और आंसू गैस फेंके। 

जामिया में CAA के खिलाफ फिर शुरू हुआ छात्रों का विरोध, यूनिवर्सिटी के सामने की सड़क जाम

विश्वविद्यालय के हालात बद से बदतर
इस पूरे मामले में जामिया के प्रोक्टर वसीम अहमद खान का कहना है कि पुलिस की ओर से बड़ी गलती हुई है, वो बिना अनुमति के विश्वविद्यालय परिसर में घुसी और छात्रों पर बल प्रयोग किया है। जिससे विश्वविद्यालय के हालात बद से बदतर हो गए हैं, लाइब्रेरी के भीतर पुलिस द्वारा छात्रों पर आंसू गैस का प्रयोग किया है। यही नहीं छात्रों के साथ ही जामिया के कर्मचारियों के साथ भी मारपीट की गई है।

जामिया हिंसक प्रदर्शन पर बोले केजरीवाल, बिगड़ती कानून व्यवस्था पर हूं चिंतित

'जामिया छात्र इस पूरे मामले में शामिल नहीं'
प्रशासन का कहना है कि जामिया छात्र इस पूरे मामले में शामिल नहीं हैं, उन्होंने शांतिपूर्ण ढंग से रविवार दोपहर मार्च निकाला था जिसके बाद वो कैंपस के भीतर आकर बैठ गए थे। कोई भी छात्र सड़क पर नहीं था, विश्वविद्यालय परिसर का गेट भी बंद था। प्रशासन ने आरोप लगाया है कि जामिया छात्रों की आड़ में भीड़ हिंसा को भड़का रही है, इसमें जामिया के छात्रों का नाम लाना व विश्वविद्यालय को बदनाम करना ठीक नहीं है। बता दें कि इस घटना पर प्रशासन पूरजोर तरीके से विरोध कर रहा है।

comments

.
.
.
.
.