Sunday, Sep 19, 2021
-->
iils-of-hyderabad-production-of-the-drug-required-for-covaxine-will-start-from-june-prshnt

हैदराबाद की IILs ने दी जानकारी, कहा- Covaxin के लिए जरूरी ड्रग का उत्पादन जून से होगा शुरू

  • Updated on 5/29/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश में कोरोना वायरस को हराने के लिए लगातार वैक्सीनेशन की प्रक्रिया तेजी से जारी है। ऐसे में कोविड-19 वैक्सीन कोवैक्सीन के लिए जरूरी ड्रग का उत्पादन 15 जून से शुरू हो जाएगा और जुलाई तक इसकी पहली खेप भारत बायोटेक को दे दी जाएगी। इसकी जानकारी राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड के तहत फर्म आईआईएलएस ने दी है। जिसे देश में वैक्सीन पदार्थ उत्पादन बढ़ाने के लिए मिशन कोविड सुरक्षा के तहत चुना गया है। 

आईआईएल के मैनेजिंग डायरेक्टर के आनंद कुमार ने शुक्रवार को बताया कि फर्म को इस बात की उम्मीद है कि शुरुआत में हर माह 2-3 मिलियन खुराक का उत्पादन किया जा सकेगा और बाद में इसे 7-15 मिलियन तक कर दिया जाएगा। दरअसल कोवैक्सीन के लिए जरूरी दवाओं को बनाने के लिए भारत बायोटेक ने आईआईएलएस को पार्टनर बनाया है।

महाराष्ट्र: इमारत ढहने से 7 की मौत, कई लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका

हैदराबाद में होगा दवाओं का निर्माण
आनंद कुमार ने बताया कि देश की जनसंख्या को देखते हुए देश को वैक्सीन की बड़ी संख्या में जरूरत है। इसके लिए उत्पादन शुरू कर दी गई है। मांग को पूरा करने के लिए भारत बायोटेक के साथ एक प्रौद्योगिकी सहयोग समझौते किया गया है। इसके तहत भारत बायोटेक के लिए कोवैक्सीन के लिए जरूरी दवाओं का निर्माण हैदराबाद में अपनी एक मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी में किया जाएगा।

UP: ऑक्सीजन सपोर्ट पर सपा नेता आजम खान, हालत गंभीर

तेजी से हो रहा वैक्सीनेश
बता दें कि देश में लगातार कोरोना का कहर जारी है भले ही कोरोना के मामले कम हुए हैं लेकिन इस वायरस से हो रहे मौत के आंकड़े अब भी चिंता का विषय है। ऐसे में देश में तेजी से वैक्सीनेशन की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जा रहा है। इसी बीच कई राज्यों ने कोरोना वैक्सीन खत्म होने की बात कही है। अब केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास फिलहाल कोविड-19 टीके की 1.84 करोड़ से अधिक खुराकें उपलब्ध हैं और अगले तीन दिन में उन्हें तीन लाख खुराकें और प्राप्त होंगी। केंद्र सरकार ने नि:शुल्क माध्यमों और सीधी खरीद के माध्यम से राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अब तक 22.46 करोड़ से अधिक खुराकें उपलब्ध कराई हैं।

प्रियंका गांधी का केंद्र पर निशाना, कहा- सरकार की लापरवाही के चलते पैदा हुआ ऑक्सीजन संकट

वैक्सीन की उपलब्धि
शुक्रवार को सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक, बर्बाद हुई खुराकें मिलाकर अब तक कुल खपत 20,48,04,853 खुराकों की हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास लगाने के लिए अब भी कोविड टीके की कुल 1,84,92,677 खुराकें उपलब्ध हैं। साथ ही कहा कि 3,20,380 खुराकें और भेजने की तैयारी है जो उन्हें अगले तीन दिन के भीतर प्राप्त हो जाएंगी।

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.