Monday, Dec 16, 2019
iim will be off campus in kashmir these short term courses will start

PM मोदी ने पूरा किया वादा, कश्मीर में बनेगा IIM का ऑफ-कैंपस, ये कोर्सेज होंगे शुरु

  • Updated on 8/10/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्र सरकार ने श्रीनगर में आईआईएम-जम्मू के एक ऑफ कैंपस केंद्र को बनाने के लिए मंजूरी दे दी है। इस कैंपस का निर्माण लगभग 51.8 करोड़ रुपये के खर्च से किया जाएगा। बता दें की कैंपस निर्माण के लिए केंद्र सरकार ने फंड को मंजूरी दे दी है।

कश्मीरी ‘उपद्रवियों’ को विशेष विमान से भेजा जा रहा है आगरा की जेल में

जम्मू कश्मीर से Article370 हटने के बाद यह फैसला लिया गया है। 8 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए वादा किया था कि जल्द ही जम्मु और कश्मीर में आईआईटी और आईआईएम के कैंपस खोले जाएंगे। बी एस सहाय जो की आईआईएम-जम्मू के निदेशक हैं उन्होने जानकारी देते हुए बताया कि इस अस्थाई संस्थान का निर्माण श्रीनगर में एयरपोर्ट रोड पर किया जाएगा।

 IIM Jammu-(Photo- Facebook)

अरुण जेटली की तबीयत में पहले से सुधार, AIIMS पहुंचे उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू

साथ ही उन्होंने कहा कि कैंपस भवन के निर्माण का कार्य शुरू करने के लिए CPWD (सेंट्रल पब्लिक वर्क डिपार्टमेंट) को पत्र लिखा गया है। सहाय ने बताया कि 'हम मैनेजमेंट डेवलेपमेंट प्रोग्राम (तीन दिन से छह महीने तक की छोटी अवधि के कार्यक्रम) को शुरु करने जा रहे हैं। साथ ही उन्होने श्रीनगर ऑफ-कैंपस सेंटर फुल टाइम MBA कार्यक्रम भी जल्द शुरू किए जाने की बात कही है।

#Article370 पर भारत के साथ खुलकर आया रूस, कहा- फैसला संविधान के दायरे में

आपको बता दें कि सहाय आईआईएम-जम्मू के पहले निदेशक हैं। संस्थान प्रबंधन में मास्टर्स इन बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (MBA) और डॉक्टरेट कार्यक्रम (PhD) कोर्स मौजूद है और वहां छात्रों की संख्या लगभग 150 तक है।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.