Wednesday, Jul 06, 2022
-->
iit delhi develops low cost earthquake resistant braces

आईआईटी दिल्ली ने कम लागत वाले भूकंप रोधी ब्रेसिज विकसित किए

  • Updated on 5/20/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) दिल्ली के शोधकर्ताओं ने कम लागत, उच्च शक्ति, उत्कृष्ट लचीलेपन और बेहतर ऊर्जा अपव्यय क्षमता वाले अनूठे हाइब्रिड बकलिंग-प्रतिबंधित ब्रेसिज (एचबीआरबीएस) तैयार किए हैं। जो किसी भी निर्माण को भूकंप से बेहतर सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं। आईआईटी के सिविल इंजीनियरिंग विभाग में प्रो. दीप्ति रंजन साहू और उनके छात्र डॉ. अहमद ने इन ब्रेसिज का विकास किया है।

अब बच्चों का मूल्यांकन अभिभावक व दोस्त भी कर सकेंगेः अनुराग त्रिपाठी

स्टील और कंक्रीट के पुलों में लगाकर बढ़ाई जाएगी उनकी भूकंप प्रतिरोध क्षमता
प्रो. साहू ने बताया कि इन ब्रेसिज को भारत के विभिन्न भूकंपीय क्षेत्रों में स्थित इमारतों या पुलों पर अपेक्षित भूकंपीय मांग के आधार पर अनुकू लित किया जा सकता है। प्रस्तावित प्रौद्योगिकी नए निर्माणों के लिए प्रभावी है और इसमें भूकंपीय रूप से कमी वाले प्रबलित कंक्रीट (आरसी) और स्टील के बने ढांचे, जैसे आवासीय, कार्यालय भवनों, अस्पतालों और स्कू ल भवनों के उन्नयन तथा रेट्रोफिटिंग के लिए काफी संभावनाएं हैं। इन ब्रेसिज को स्टील और कंक्रीट के पुलों में भी आसानी से लगाया जा सकता है ताकि उनकी भूकंप प्रतिरोध क्षमता को बढ़ाया जा सके।

जेएनयू खोलेगा विदेशों में कैंपस, कई देशों ने किया संपर्क

अस्पताल, स्कूल, कॉलेज, आवासीय व कार्यालयी भवनों में भी की जा सकेगी रेट्रोफिटिंग
भारत सरकार के डीएसटी और एफआईएसटी कार्यक्रम की वित्तीय सहायता से विकसित इन ब्रेसिज का 10 से अधिक भूकंपीय प्रदर्शन में अध्ययन किया गया है। इसके अलावा प्रयोगशाला में सुधार और संशोधन के साथ नमूनों पर परीक्षण किए जा रहे हैं और प्रोफेसर साहू के अनुसार इस प्रस्तावित ब्रेसिंग प्रणाली के लिए एक पेटेंट हेतु हाल ही में आवेदन किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.